लाखों की नौकरी छोड़ खोली चाय की दुकान

0

बरेली। दो इंजीनियरों ने लाखों के पैकेज की नौकरी छोड़कर चाय कॉलिंग के नाम से चाय की दुकाने खोल दी है। इन्होंने साबित कर दिया कि मेहनत और लगन से जीवन ने किसी भी काम को मन से किया जाए तो उसे असानी से पूरा किया जा सकता है। 21वीं सदी में कुछ भी सत्य हो सकता है।

चाय कॉलिंग

चाय कॉलिंग ऑउटलेट अब बरेली से नोएडा तक

बरेली के रहने वाले प्रमित शर्मा और अभिनव टंडन ने चाय का बिजनेस शुरू किया और देखते ही देखते चाय कॉलिंग के नाम से शुरू हुए चाय के आउटलेट बरेली से लेकर नोएडा तक खुल गये। आज इनकी बरेली में 6 और नोएडा में चाय के 3 आउटलेट हैं। प्रमित सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं तो अभिनव टंडन इलेक्ट्रिकल इंजीनियर हैं। दोनों देश की नामी कम्पनियों में लाखों रुपए के सालाना पैकेज पर अच्छी खासी नौकरी कर रहे थे।

कुछ अलग करने की चाह और इनके मजबूत इरादों ने इनकी नौकरी छुड़वा दी। दोनों ने एक लाख रूपये से चाय का आउटलेट खोला और देखते ही देखते आज इनका टर्न ओवर करीब एक करोड़ रूपये का हो गया हैं। चाय कॉलिंग से ये दोनों करीब 35 लोगों को रोजगार भी मुहैया करा रहे हैं। चाय कॉलिंग के आउटलेट पर 15 तरह की चाय बेचीं जा रही हैं। ग्रीन टी, लेमन टी, ब्लैक टी, आइस टी से लेकर चाय की तमाम वैराइटी इनके आउटलेट पर मौजूद हैं। इतना ही नहीं इन्होंने ऐसी व्यवस्था भी की है कि फोन करने पर 15 मिनट में चाय आपके घर पहुंच जाती है।

चाय कॉलिंग की शुरुआत कर दोनों युवा इंजीनियरों ने उन युवाओं के लिए एक नजीर पेश की हैं जो पढ़ाई में सफल ना होने के कारण आत्मघाती कदम उठाते हैं। ऐसे में जरूरत हैं तो इनसे सीख लेने की जिन्होंने नौकरी छोड़ खुद का बिजनेस शुरू किया और आज कई लोगों को अपने दम पर रोजगार दे रहे हैं।

loading...
शेयर करें