चारधाम यात्रा के दौरान मरने वालों की संख्या में हुआ इजाफा

0

बदरीनाथ। चारधाम यात्रा पर गए यात्रियों में हार्टअटैक से मरने वालों का आकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। बदरीनाथ धाम में अभी तक दो यात्रियों की हार्ट अटैक से जान जा चुकी थी। अब और दो यात्रियों की मौत से ये आकड़ा बढ़कर चार हो चुका है, जबकि चारों धामों में अबतक लगभग 17 यात्रियों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा है।

चारधाम यात्रा

चारधाम यात्रा 28 अप्रैल से हुई थी शुरू,  अबतक हृदय गति रुकने से 17 यात्रियों की मौत

सूत्रों की माने तो, महाराष्ट्र के सतारा जिला स्थित ग्राम औद के रहने वाले गजानन मारुति (65 वर्ष) के बेटे मारुति माने बदरीनाथ धाम दर्शन के लिए बस से पहुंचे थे। जैसे ही वे बस अड्डे पर पहुंचे बस से उतरने से पहले ही उन्हें अटैक आ गया। जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गयी।

चारधाम की यात्रा 28 अप्रैल से शुरू हुई थी तब से लेकर अबतक हृदय गति रुकने से 17 यात्रियों की मौत हो चुकी है। इनमें सर्वाधिक दस यात्रियों की मौत यमुनोत्री धाम में हुई। जबकि, के दारनाथ में दो और बदरीनाथ में चार यात्रियों की हार्टअटैक आने से मौत हुई।

loading...
शेयर करें