चीन के साथ भारत करना चाहता है बातचीत

बीजिंग। भारतीय विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने रविवार को  कहा कि उनका देश चीन के साथ अधिक आपसी बातचीत के लिए उत्सुक है। सिंह ने ब्रिक्स विदेश मंत्रियों की बैठक से पूर्व रविवार को चीनी विदेश मंत्री वांग यी से मुलाकात की।

वीके सिंह

वीके सिंह ने कहा- भारत चीन  साथ रणनीतिक संबंधों प्रगाढ़ करना चाहता है

वीके सिंह ने कहा कि भारत चीन के साथ रणनीतिक संबंधों को प्रगाढ़ करना चाहता है। दोनों देशों के बीच संबंधों में कई मुद्दों को लेकर खटास आ गई है, जिसमें चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे पर आपत्ति से लेकर परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह में नई दिल्ली की सदस्यता का चीन द्वारा विरोध शामिल है।

सिंह ने दियाओयुताई सरकारी अतिथिगृह में कहा, “भारत अपनी रणनीतिक साझेदारी और आपसी संवाद को मजबूत करने और प्रगाढ़ बनाने के लिए उत्सुक है।” उन्होंने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच अस्ताना में शंघाई सहयोग संगठन शिखर बैठक में हुई मुलाकात को फलदायी और रचनात्मक बताया।

वीके सिंह ने कहा, “उन्होंने हमारे लिए और दोनों देशों के लिए आपसी सम्मान और आपसी सहयोग के दिशा तय किए।” इसके पहले शुक्रवार को चीन ने कहा था कि ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका के विदेश मंत्री आतंकवाद पर एक स्पष्ट बातचीत करेंगे।

भारत पाकिस्तानी आतंकी मसूद अजहर पर संयुक्त राष्ट्र में प्रतिबंध लगाने के रास्ते में चीन द्वारा रोड़ा अटकाने का मुद्दा उठा सकता है। आतंकी संगठन, जैश-ए-मोहम्मद का प्रमुख अजहर जनवरी 2016 में पंजाब के पठानकोट वायुसेना अड्डे पर हुए आतंकी हमले में वांछित है। चीन ने एनएसजी में प्रवेश की भारत की कोशिश के रास्ते में भी रोड़ा अटका रखा है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *