सर्वे : यूपी में सबसे बड़ी पार्टी बनेगी बीजेपी

0

नई दिल्ली। यूपी में चुनावी दंगल की शुरूआत हो चुकी है। चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चुका है। इसका मतलब है कि इलेक्शन कमीशन की सीटी बजते ही सभी पहलवान अखाड़े में उतरने को तैयार हैं। यूपी में सत्ता की कुर्सी पर कौन बैठेगा इसका असली फैसला तो 11 मार्च को चुनाव रिजल्ट वाले दिन होगा। इससे पहले एबीपी न्यूज ने ओपिनियन पोल के जरिए यूपी के करीब 6 हजार वोटरों का मन टटोला। इस ओपिनियन पोल में कई बातें सामने आयीं।

चुनाव

पहली- यूपी में किसी पार्टी को बहुमत संभव नहीं है

दूसरी- समाजवादी पार्टी एकजुट रही तो तब सबसे बड़ी पार्टी तो बन जाएगी लेकिन बहुमत नहीं हासिल कर पाएगी।

तीसरी- अगर समाजवादी पार्टी एकजुट नहीं रही तो फायदे में बीजेपी में रहेगी। खंडित समाजवादी पार्टी दो नंबर पर खिसक जाएगी।

जनता के मन को और अच्छे से भांपने के लिए एबीपी न्यूज़ यूपी के 75 जिलों में ऐसे लोगों को मिला जो जिले की राजनीति पर बरसों से पैनी नजर रखे हुए हैं। हर सीट, हर पोलिंग बूथ के वोटरों को करीब से जानते समझते हैं। ये 75 लोग यूपी के 75 जिलों के वरिष्ठ पत्रकारों हैं। इनका चुनावी गणित बताएगा यूपी में जनता किस पर भरोसा करने वाली है। एबीपी न्यूज़ जमीनी हकीकत को समझने के लिए बिल्कुल नया प्रयोग कर रहा है।

75 जिलों के 75 पत्रकारों ने 403 सीटों का अनुमान लगाया। पत्रकारों का आंकलन है कि 128 सीट बीजेपी को मिल सकती है। समाजवादी पार्टी को 107 सीटें मिल सकती हैं। बीएसपी तीसरे नंबर पर रहेगी 62 सीटों के साथ। कांग्रेस को सिर्फ 11 सीटें मिल सकती हैं। लेकिन कई सीटों पर उम्मीदवार घोषित होने के कारण काफी सीटों पर हार जीत का अनुमान नहीं लगाया जा सका। ऐसी सीटों की संख्या 86 है। 9 सीटों पर अन्य जीत सकते हैं। हम ये भी साफ कर दें कि 75 पत्रकारों ने जब अनुमान लगाया तब उन्होंने समाजवादी पार्टी को एकजुट माना।

 

(एबीपी न्यूज से साभार)

loading...
शेयर करें