देश की इस मशहूर हस्ती ने पूछा, गाय की खाल निकालना सही तो गोमांस खाना गलत कैसे?

0

मुंबई। देश में गोरक्षकों का बोल बाला है। आए दिन कहीं न कहीं से हिंसा की खबरें आती रहती हैं। अभी हाल ही में झारखंड में बीफ ले जाने के शक में एक मुस्लिम शख्स की भीड़ द्वारा पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। बता दें इस मामले से एक दिन पहले पीएम मोदी ने गोरकक्षों पर बड़ा बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि देश में इस तरह का गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अब इस मामले में मशहूर लेखक चेतन भगत ने अपनी भड़ास निकाली है।

चेतन भगत

चेतन भगत ने ऐसे लोगों से पूछा है कि क्या वो लोग अपनी भी जान लेंगे

चेतन भगत ने ऐसे लोगों से पूछा है कि क्या वो लोग अपनी भी जान लेंगे, क्योंकि वो भी तो गाय के चमड़े से बने जूते पहनते हैं। दरअसल, चेतन ने अपनी तीखी प्रतिक्किया देते हुए ट्वीट किया। चेतन ने अपने ट्वीट में लिखा- क्या बीफ के नाम पर किसी की भी जान ले लेने वाले खुद की भी जान लेंगे, क्योंकि वो भी तो गाय के चमड़े के बने जूते पहनते हैं। या ऐसा नहीं करेंगे क्योंकि गाय की खाल उधेड़ना तो ठीक है लेकिन उसका मांस खाना गलत।

चेतन के इस ट्वीट को जहां कई ट्विटर यूजर्स का समर्थन मिला

चेतन भगत के इस ट्वीट को जहां कई ट्विटर यूजर्स का समर्थन मिला, वहीं कुछ ट्विटर यूजर्स ने उनपर हमले भी किए। खुद पर निजी हमलों के बाद भगत ने एक और ट्वीट किया, ‘निजी हमले का मतलब है कि तुमलोगों के पास तर्क के जरिए जवाब देने की क्षमता नहीं है।

बीफ ले जाने के शक में भीड़ी ने पीट-पीट कर हत्या कर दी थी

बता दें गुरुवार को झारखंड के रामगढ़ जिले में अलीमुद्दीन नाम के एक शखअस को अपनी मारुती वैन में बीफ ले जाने के शक में भीड़ी ने पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। पुलिस के मुताबिक अलीमुद्दीन उर्फ असगर अंसारी एक मारुति वैन में ‘प्रतिबंधित मांस’ ले जा रहा था। सूत्रों ने कहा कि लोगों के एक समूह ने बाजरटांड गांव में उसे रोका और उस पर बेरहमी से हमला किया। उसके वैन को आग के हवाले कर दिया गया। पुलिसकर्मियों ने उसे भीड़ से बचाया और अस्पताल में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

 

loading...
शेयर करें