चैम्पियंस ट्रॉफी: भारत मजबूत लेकिन पाकिस्तान के साथ है किस्मत

0

लंदन। आस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज माइकल हसी ने कहा है कि आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारतीय टीम सभी की पसंदीदा है लेकिन किसी को भी पाकिस्तान को हल्के में नहीं लेना चाहिए क्योंकि वह किस्मत को साथ लेकर चल रहे हैं। दोनों टीमें रविवार को होने वाले फाइनल में खिताबी भिड़ंत करेंगी।

माइकल हसी

माइकल हसी ने कहा भारत ख़िताब की प्रबल दावेदार

माइकल हसी ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की वेबसाइट पर अपने कॉलम में लिखा है, “भारत अच्छी स्थिति में है और खिताब बचाने की प्रबल दावेदार मानी जा रही है लेकिन किसी को भी पाकिस्तान को कम नहीं आंकना चाहिए। यह तेज टीम है और इस टूर्नामेंट में अभी तक कई उतार चढ़ाव देख चुकी है।”

हसी ने लिखा है, “पाकिस्तान ने आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी-2017 में सभी को हैरान किया है। आठवीं रैंकिंग के साथ इस टूर्नामेंट में आकर और पहले मैच में भारत से मिली हार के बाद उसने अच्छी वापसी की है।”

उन्होंने लिखा है, “तब से हर मैच उसके लिए नॉकआउट मैच हो गया था। उसके पास खोने के लिए कुछ नहीं था इसलिए उसने अपनी स्वतंत्रता के साथ खेला जो शानदार रहा और इसी कारण वह फाइनल में पहुंच सकी।”

माइकल हसी लिखते हैं, “किस्मत पाकिस्तान के साथ है।” पहले मैच में भारत से मिली हार के बाद पाकिस्तान ने दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका और मेजबान इंग्लैंड को मात दी थी।  हसी ने लिखा है, “श्रीलंका के खिलाफ अपने अंतिम पूल मैच में जो उनके लिए करो या मरो वाला मुकाबला था, पाकिस्तान लक्ष्य का पीछा करते हुए लगभग हार गया था लेकिन, श्रीलंका उसे बाहर नहीं कर सका और कैच छोड़ने के कारण पीछे रह गया। पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने शानदार पारी खेलते हुए टीम को जीत दिलाई और फिर सेमीफाइनल में पहुंचाया।”

उन्होंने लिखा है, “उसने अपनी इस लय को सेमीफाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ भी जारी रखा जहां वह खेल के हर क्षेत्र में आगे रही। और अब उसके बाद भारत के खिलाफ एक और मौका है।”

हसी के मुताबिक, “मैं निश्चिंत हूं कि पाकिस्तान को इस टूर्नामेंट में भारत के खिलाफ अपने रिकार्ड से प्ररेणा मिलेगी और वह रविवार को अपना विजयी क्रम जारी रखेगी।”

भारत को लेकर हसी ने लिखा है, “टीम शिखर धवन, रोहित शर्मा और विराट कोहली का शीर्ष क्रम अभी तक शानदार रहा है। वहीं मध्यक्रम भी लय में है। वह अपनी शानदार क्लास और शॉट खेलने की क्षमता से विपक्षी टीम के गेंदबाजों को धो रहे हैं।”

माइकल हसी के मुताबिक भारत के मध्य क्रम को इस टूर्नामेंट में ज्यादा मौका न मिलना भारत के लिए एकमात्र चिंता की बात है।  उन्होंने लिखा है, “भारत के लिए चिंता की एक बात यह है कि युवराज सिंह, महेंद्र सिंह धौनी, केदरा जाधव और हार्दिक पांड्या को ज्यादा मौका नहीं मिला है और पाकिस्तान इसका फायदा उठा सकता है अगर वह शुरुआती विकेट ले लेता है तो। इसमें बड़ी चीज अगर है।”

loading...
शेयर करें