नक्सलियों ने पीछे से किया वार, दो जवान शहीद

0

रायपुर। छत्तीसगढ़ के कांकेर में नक्सलियों के साथ सेना की मुठभेड़ में दो जवान शहीद हो गए, जबकि चार जिंदगी और मौत के बीच झूल रहे हैं। नक्सलियों ने सेना पर उस वक्त छुपकर हमला किया, जब वे घने जंगल में एक नदी के पास पहुंचे थे। बीएसएफ के जवान इन दिनों नक्सलियों के खिलाफ विशेष अभियान चला रहे हैं। छत्तीसगढ़ मुठभेड़ उसी का बदला माना जा रहा है।

छत्तीसगढ़ मुठभेड़

छत्तीसगढ़ मुठभेड़ की वजह

अाज नक्सलियों ने बस्तर बंद का आह्वान भी किया है। कांकेर पुलिस उपनिरीक्षक (डीएसपी) जयंत वैष्णव ने बताया है कि माओवादी हिंसा से प्रभावित जिले के छोटेबेठिया-पखांजुर वन क्षेत्र के निकट सीमा सुरक्षा बल के एक गश्ती दल और सशस्त्र नक्सलियों के बीच संघर्ष हुआ था। छत्तीसगढ़ मुठभेड़ में दो जवान शहीद हो गए और चार अन्य लोग घायल हो गए।

बीएसएफ और जिला बल का एक संयुक्त दस्ता जिले के बांदे क्षेत्र के जंगलों में विशेष अभियान चला रहा था। इसी दौरान रात करीब ढाई बजे मुठभेड़ हुई। उन्होंने बताया कि बीएसएफ की 117वीं और 122वीं बटालियन यह अभियान चला रही है। नक्सली हमले के बाद घायल छह जवानों को विमान से रायपुर ले जा रहे थे। रास्ते में दो जवानों ने दम तोड़ दिया। अन्य चार जवान रायपुर के रामकृष्ण केयर अस्पताल में भर्ती हैं।

छत्तीसगढ़ मुठभेड़ में शहीद हुए जवानों की पहचान विजय कुमार और राकेश नेहरा के रूप में की गई है। शहीद हुए दोनों जवान 2011-12 में बल में भर्ती किए थे। वहीं, घायलों की पहचान मनोज कुमार, एस थॉमसन, जगदीश के और बप्पा डी के रूप में की गई है।

loading...
शेयर करें