छत्तीसगढ़ में देशविरोधी गतिविधियों में शामिल तीसरा आरोपी धरा गया

0

नई दिल्‍ली। छत्तीसगढ़ में देशविरोधी गतिविधियों में शामिल होने के शक में पकड़े गए दो आरोपियों की निशानदेही पर उनके तीसरे साथी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

छत्तीसगढ़ में देशविरोधी गतिविधियों

छत्तीसगढ़ में देशविरोधी गतिविधियों में पकड़े जा चुके हैं दो लोग

गिरफ्त में आए तीसरे संदिग्ध का नाम अवधेश दुबे है। बिलासपुर के एएसपी प्रशांत कतलम ने बताया कि अवधेश को बिलासपुर के मगरपारा इलाके से गिरफ्तार किया गया है। अवधेश दुबे पाकिस्तानी एजेंट रज्जन तिवारी का रिश्तेदार है। एएसपी ने बताया, रज्जन तिवारी पहले ही मध्य प्रदेश एटीएस द्वारा गिरफ्तार किया जा चुका है।

आरोपियों ने किए चौंकाने वाले खुलासे

अवधेश ने ही दो दिन पहले गिरफ्तार किए गए मनेन्द्र यादव और संजय देवांगन को रज्जन तिवारी से मिलवाया था। पुलिस ने इनके पास से मिलीं कई बैंकों की पासबुक, मोबाइल फोन और आधार कार्ड को जब्त कर लिया है। पुलिस को उम्मीद है कि आरोपियों से पूछताछ में कई और चौंकाने वाले खुलासे हो सकते हैं।

15 अप्रैल को पुलिस की पकड़ में आए थे दो संदिग्ध

15 अप्रैल को देश विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के शक में मनेन्द्र यादव और संजय देवांगन को बिलासपुर से गिरफ्तार किया गया था। मनेन्द्र यादव और संजय देवांगन दोनों ही साधारण नौकरी करते हैं। आरोपियों के बैंक अकाउंट्स के स्टेटमेंट देखने के बाद पुलिस को पता चला कि इनके अकाउंट में कई बार मोटी रकम ट्रांसफर की गई है।

आतंकियों को फंडिंग करने वाले गिरोह से जुड़े होने का शक

साथ ही वह रकम इनके अकाउंट्स के जरिए कुछ अन्य अकाउंट्स में ट्रांसफर कर दी गई। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि गिरफ्त में आए आरोपी आतंकियों को फंडिंग करने वाले किसी बड़े गिरोह से जुड़े हुए हो सकते हैं। फिलहाल पुलिस इनके बैंक अकाउंट्स और उनके पहचान संबंधी दस्तावेजों को खंगालने में जुटी है। पुलिस पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इनके अकाउंट्स में रकम डालने वाले कौन लोग हैं और यह रकम आगे किसे ट्रांसफर की गई।

loading...
शेयर करें