छूटे छात्रों को मिलेगा पास होने का एक और मौका

0

लखनऊ। स्‍कूली छात्रों के लिए खुशखबरी। खबर आ रही है कि बेसिक स्कूलों में जो स्‍टूडेंटस परीक्षा में शामिल नहीं हो पाए थे उन्‍‍हें एक और मौका दिया जाएगा। बेसिक स्‍कूलों में 14 से 21 मार्च के बीच वार्षिक परीक्षा आयोजित की गई थी। छूटे स्‍टूडेंटस को नौ और 11 अप्रैल को टेस्ट देना होगा। इसके लिए उनके अभिभावकों से भी संपर्क किया जाएगा। सचिव बेसिक शिक्षा आशीष गोयल ने सभी मंडलीय शिक्षा निदेशकों और जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को इसके निर्देश जारी कर दिए हैं।

बेसिक स्‍कूल

बेसिक स्‍कूल के छात्रों को एक मौका और

सत्र 2015-16 की वार्षिक परीक्षा में शामिल न होने वाले विद्यार्थियों के पढ़ाई-लिखाई के स्तर के मूल्यांकन के लिए शासन ने एक और मौका दिया है। इन्हें अगली कक्षा में भेजने से पहले नौ और 11 अप्रैल को सभी विद्यालयों में टेस्ट कराए जाएंगे। चूंकि, शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत कक्षा 1-8 तक किसी भी विद्यार्थी को उसी कक्षा में नहीं रोका जा सकता। इसलिए शासन ने सभी विद्यार्थियों को अगली कक्षा में भेजने के निर्देश भी दिए हैं।

किसी भी हालत में नहीं रोकी जाएगी कक्षा उन्नति

अप्रैल में होने वाले टेस्ट की सूचना चिह्नित छात्र-छात्राओं के अभिभावकों को अनिवार्य रूप से देने के निर्देश भी दिए गए हैं। सचिव बेसिक शिक्षा ने बताया कि परीक्षाओं में शत-प्रतिशत छात्र-छात्राओं को शामिल होना चाहिए, लेकिन जो विद्यार्थी किसी कारण से परीक्षा में शामिल नहीं हो सके हैं, उनकी कक्षा उन्नति किसी भी हालत में रोकी नहीं जाएगी।

बेसिक स्‍कूल में ही तैयार होंगे पेपर

टेस्ट के लिए बेसिक स्‍कूलके विद्यालयों के प्रधानाध्यापक व अध्यापक प्रश्नपत्र तैयार करेंगे और उसे ब्लैक बोर्ड पर लिखेंगे। छात्र-छात्राओं को उत्तर पुस्तिकाएं भी मिलेंगी।

loading...
शेयर करें