जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जवानों को किया आगाह, सार्वजनिक जगहों पर न करें ईद की नमाज अदा

0

श्रीनगर| श्रीनगर में जामिया मस्जिद के बाहर भीड़ द्वारा एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी की हत्या किए जाने के मद्देनजर जम्मू एवं कश्मीर पुलिस ने रविवार को सभी सुरक्षाकर्मियों को परामर्श जारी किया है कि वे सार्वजनिक जगहों पर ईद की नमाज अदा करने से बचें। परामर्श में कहा गया है कि सुरक्षाकर्मी सुरक्षित जगहों पर ही ईद की नमाज अदा करें।

जम्मू एवं कश्मीर पुलिस

जम्मू एवं कश्मीर पुलिस ने सुरक्षाकर्मियों को दिया परामर्श

यह चेतावनी राज्य के सभी पुलिस थानों, जम्मू एवं कश्मीर पुलिस की सभी शाखाओं, सेना की 15वीं कोर, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस, सशक्त सीमा बल (एसएसबी), केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) को भेजी गई है।

परामर्श में कहा गया है कि कार्य क्षेत्र में तैनात अपने सभी अधीनस्थों को निर्देश दें कि वे सुनसान जगहों या आम मस्जिदों या ईदगाहों में ईद की नमाज अदा करने न जाएं। पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर क्षेत्र) द्वारा जारी परामर्श में कहा गया है कि बीते शुक्रवार को पुलिस उपाधीक्षक मोहम्मद अयूब पंडित की भीड़ द्वारा हत्या के मद्देनजर सुरक्षाकर्मियों को सिर्फ सुरक्षित जगहों पर ही ईद की नमाज अदा करनी चाहिए।

देशभर में सोमवार को ईद मनाए जाने की उम्मीद है, क्योंकि रमजान का पवित्र महीना रविवार को समाप्त हो रहा है। आतंकवादियों द्वारा बदला लेने के उद्देश्य से हमला किए जाने की आशंका के चलते, जम्मू एवं कश्मीर पुलिस ने इस साल के शुरुआत में भी एक परामर्श जारी किया था, जिसमें सुरक्षाकर्मियों को अपने गृहनगर जाने से मना किया गया था।

loading...
शेयर करें