बूंद-बूंद पानी को तरस रहा पाकिस्तान, अब तो केवल बारिश का सहारा

0

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के दो शहरों- रावलपिंडी और इस्लामाबाद में गंभीर जलसंकट गहराता दिख रहा है। ऐसा लंबे समय तक शुष्क मौसम के कारण पाकिस्तान के खानपुर बांध के सूखने से हो रहा है। जलसंकट के बारे में बताते हुए बांध के अधिकारियों ने रविवार को अखबार ‘डॉन’ से कहा कि लंबे समय तक शुष्क मौसम और जलग्रहण क्षेत्रों में ज्यादा बारिश नहीं होने के कारण पानी के प्रवाह में कमी से भूमिगत चट्टाने और बांध की तलहटी कई जगह दिखाई देने लगी है। यह एक खतरनाक चेतावनी है।

जलसंकट

जलसंकट के संकट से ग्रसित है पाकिस्तान, सूख रहे कई बाँध 

अधिकारी ने इसकी भी पुष्टि की कि जलाशय में पानी का स्तर चिंताजनक रूप से निम्न स्तर पर पहुंच गया है। दूसरी तरफ जानकारों का कहना है कि तक्षशिला और वाह में जलस्तर तेजी से घट रहा है। इससे ट्यूबेल के पानी में भी कमी आ रहा है।

बांध में पानी का स्तर रविवार को समुद्र तल से 1,952 फीट ऊपर रहा। यह इसके न्यूनतम स्तर 1910 फीट से सिर्फ 42 फीट ऊपर है। बांध में पानी का प्रवाह 25 क्यूसेक रहा, जबकि बांध से सीडीए इस्लामाबाद और रावलपिंडी छावनी बोर्ड सहित कई नगर निगम के नागरिक लाभार्थियों को पानी की आपूर्ति का प्रवाह 187.18 क्यूसेक प्रतिदिन है।

अधिकारियों के अनुसार, मौजूदा शुष्क मौसम के कारण बांध में पानी का स्तर 30 फीट तक गिरा है। इससे रावलपिंडी और इस्लामाबाद की आपूर्ति में कमी हो सकती है। उन्हें डर है यदि जलग्रहण वाले इलाकों में जल्द बारिश नहीं हुई तो सिंचाई के लिए पानी की आपूर्ति में कटौती जरूरी हो जाएगी।

loading...
शेयर करें