जस्टिस लोया मर्डर केस: SC ने कहा- नहीं होगी SIT जांच, किया सभी याचिकाओं को खारिज

नई दिल्ली। हाई प्रोफाइल सोहराबुद्दीन शेख फर्जी एनकाउंटर केस की सुनवाई के दौरान मारे गए सीबीआई के विशेष जज की रहस्यमयी मौत के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए मामले की एसआईटी जांच की मांग करने वाली सभी याचिकाओं को खारिज कर दिया। कोर्ट ने कड़े शब्दों में कहा कि अब इस मामले की कोई जांच नहीं होगी।

justic loya

कोर्ट ने यह भी कहा कि जस्टिस लोया के साथ सफ़र कर रहे जजों के बयान को झुठलाया नहीं जा सकता। इस मामले में कोई दम नहीं है, इस मामले में दाखिल सभी याचिकाएं न्यायपालिका को बरगलाने के लिए की जा रही है।

ज्ञात हो कि जस्टिस लोया सोहराबुद्दीन शेख एनकाउंटर की जांच कर रहे थे। केस में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, राजस्थान के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया, गुजरात के पूर्व पुलिस प्रमुख पीसी पांडे, राजस्थान के व्यवसायी विमल पटानी, एडीजीपी गीता जौहरी व गुजरात के पुलिस अफसर अभय चुडास्मा व एनके अमीन शक के घेरे में पाए गए थे। इसी दौरान जस्टिस लोया की 1 दिसम्बर 2014 को रहस्यमयी ढंग से मौत हो गई। हालांकि रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ था कि उनकी मौत दिल का दौरा पड़ने की वजह से हुई है। लेकिन उनके घर वालों के कहने पर इस केस की दोबारा जांच करवाई गई।

मामले की स्वतंत्र जांच की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट में कई याचिकाएं दायर की गई हैं। सुप्रीम कोर्ट के फैसले से तय होगा कि केस की स्वंतत्र जांच होगी या नहीं।

Related Articles