जहां बीजेपी कमजोर वहीं से क्यों मिलीं EVM में गड़बड़ी की शिकायतें:-नेशनल कॉन्फ्रेंस

लोकसभा चुनाव: चुनाव का माहौल और शियासत की गर्माहट चढ़ती धुप के साथ पारा 50 डीग्री के पार है| ऐसे में खबर है जम्मू कश्मीर से, लोकसभा चुनाव के पहले चरण में जम्मू -कश्मीर की बारामूला और जम्मू सीट पर वोटिंग जारी है. वोटिंग में हिस्सा लेने के लिए बड़े पैमाने पर लोग घरों से निकल रहे हैं. वहीं इसी बीच राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने आरोप लगाया कि पूंछ विधानसभा में एक बूथ पर ईवीएम में कांग्रेस के सामने वाला बटन काम नहीं कर रहा है. इस पर पूंछ के डिस्ट्रिक कलेक्टर राहुल यादव ने बताया कि जैसे ही शिकायत मिली ईवीएम में आई तकनीकी खामी को दूर कर लिया गया.

राहुल यादव ने बताया कि हमें 4 बूथों से ईवीएम में खराबी की शिकायतें मिली हैं. एक अन्य बूथ पर बीजेपी के सामने वाला बटन काम नहीं कर रहा है. जबकि दो बूथों पर निर्दलीय उम्मीदवारों वाला बटन काम नहीं कर रहा है. मामला नोटिस में आते ही हमने समस्या को सुलझा लिया है. वहीं नेशनल कॉन्फ्रेंस के अन्य वरिष्ठ नेता देवेंदर सिंह राना ने कहा कि उन्होंने ईवीएम में गड़बड़ी का मुद्दा उठाया है. उन्होंने कहा कि पूंछ और राजौरी में उन्हीं बूथों पर ईवीएम में खराबी की शिकायत मिल रही है जहां बीजेपी कमजोर पड़ रही है. जम्मू और बारामूला में लोकसभा चुनाव के पहले चरण के तहत गुरुवार को मतदान हो रहा है.

उमर अब्दुल्ला ने गुरुवार जम्मू कश्मीर के लोगों से समझदारी से मतदान करने का आग्रह किया क्योंकि जो नई लोकसभा के लिए चुने जाएंगे उन्हें अगले पांच साल के लिए जनता की समस्याओं व चिंताओं का समाधान करना होगा. उन्होंने ट्वीट किया, “बारामूला, कुपवाड़ा और बांदीपोर जिलों के सभी मतदाताओं से कहना चाहता हूं, कृपया घर से बाहर निकलें और वोट करें. आपका वोट एक प्रतिनिधि चुनने का अवसर है जो हमारी समस्याओं का समाधान करेगा और अगले पांच वर्षों के लिए लोकसभा में हमारी लड़ाई लड़ेगा. इसलिए, समझदारी से चुनें.”

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के पहले चरण में जम्मू-कश्मीर की बारामूला लोकसभा सीट पर शुरुआती दो घंटे में कुल 13.12 लाख मतदाताओं में से करीब 6.5 फीसदी ने अपने मताधिकार का उपयोग किया. मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ. उत्तरी कश्मीर की बारामूला संसदीय सीट में तीन जिले और 15 विधानसभा क्षेत्र आते हैं. अधिकारियों ने बताया कि बारामूला जिले के सात विधानसभा क्षेत्रों में पहले दो घंटे में 5.8 प्रतिशत मतदान हुआ.

बांदीपोरा जिले की तीन विधानसभा क्षेत्रों में 6 प्रतिशत के करीब मतदान रहा जबकि कुपवाड़ा में अभी तक 8 प्रतिशत मतदान हो चुका है. बारामूला से चुने जाने वाला कोई भी उम्मीदवार पहली बार संसद पहुंचेगा क्योंकि मैदान में उतरे नौ प्रत्याशियों में से किसी के पास भी लोकसभा या राज्यसभा का कोई अनुभव नहीं है. नेशनल कॉन्फ्रेन्स से मोहम्मद अकबर लोन, कांग्रेस से फारूक अहमद मीर, पीपल्स कॉन्फ्रेंस से रजा एजाज अली, बीजेपी से मोहम्मद मकबूल वार, एनपीपी से जहांगीर खान, पीडीपी से अब्दुल क्यूम वानी मैदान में हैं. वहीं जावेद अहमद कुरैशी, सैयद नजीब शाह नकवी और अब्दुल राशिद शेख निर्दलीय प्रत्याशी हैं. पीडीपी के मुजफ्फर हुसैन बैग ने 2014 में इस सीट से चुनाव जीता था, लेकिन इस बार उन्होंने मैदान में नहीं उतरने का निर्णय लिया. अधिकारियों ने यहां 1387 स्थानों पर 1749 मतदान केंद्र स्थापित किए हैं. बारामूला में 13.12 लाख से अधिक मतदाता हैं.

Related Articles