जाकिर नाईक ने तोड़ी चुप्पी बोले, ‘जांच एजेंसी ने अबतक नहीं मांगी सफाई’

0

जाकिर नाईकनई दिल्ली। मुस्लिम धर्म प्रचारक जाकिर नाईक विवादों में फसने के बाद पहली बार अपनी चुप्पी तोड़ी है। नाईक ने एक बयान जारी करके कहा कि ‘भारत सरकार नहीं अब तक कुछ भी नहीं पूछा फिर मीडिया इस मामले को क्यों इतना बढ़ा रहा है’।

जाकिर नाईक ने कहा मैं आतंकी नहीं

विवादों में फसने के बाद जाकिर नाईक ने एक बयान जारी किया। जिसमें उन्होंने कहा कि ‘मैं आतंकवाद के साथ नहीं हूं’ साथ ही उन्होंने कहा कि मुझसे अबतक किसी भी जांच एजेंसी ने संपर्क नहीं किया है।

नाईक ने भारत लौटने पर कहा कि ‘मैं अपने ऊपर हो रहे मीडिया ट्रायल से चकित हूं, भारत सरकार की किसी भी एजेंसी ने अबतक मुझसे संपर्क कर सफाई नहीं मांगी है। अगर भारत सरकार की कोई भी एजेंसी मुझसे जानकारी लेना चाहती है, तो मैं सहयोग करने को तैयार हैं, मैं आतंकवाद और हिंसा के किसी भी रूप का समर्थन नहीं करता हूं’।

मुंबई पुलिस की टीम और केंद्रीय जांच एजेंसियां ज़ाकिर के भाषणों की जांच में जुटी हैं। ज़ाकिर नाईक पर तीन बड़े आरोप हैं।

  • पहला आरोप है भाषणों के ज़रिए आतंकवादियों को प्रेरित करना।
  • दूसरा आरोप है दूसरे धर्मों के खिलाफ भड़काऊ भाषण देना।
  • तीसरा आरोप है अपने कार्यक्रमों में धर्म परिवर्तन को बढ़ावा देना।

विवादों में फंसे इस्लामिक प्रचारक ज़ाकिर नाईक को आज दोपहर तक वापस देश लौट आना था पर वो नहीं आया। क्यों नहीं आया इस पर उसकी संस्था की ओर से अभी तक कुछ भी नहीं कहा गया।

 

loading...
शेयर करें