जापान के 96 वर्षीय हिराता को क्योटो यूनिवर्सिटी ने दी स्नातक की डिग्री

0

टोक्यो। जापान के 96 वर्षीय व्यक्ति का नाम विश्व के सबसे बुज़ुर्ग स्नातक के रूप में गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्डस में दर्ज किया गया है। हिराता क्योटो जापान के टाकामात्सु नगर के रहने वाले हैं। शिगेमी हिराता को मार्च में 96 साल की उम्र में क्योटो यूनिवर्सिटी की ओर से आर्ट एवं डिजाइन में कला स्नातक की डिग्री प्राप्त हुई है।

जापान

जापान के हिराता नौसेना में रह चुके हैं

‘योमिउरी शिमबन’ समाचारपत्र के मुताबिक हिराता ने कहा, “मैं बहुत खुश हूं। पढ़ना किसी भी उम्र में मजेदार होता है।”
नौसेना के दिग्गज हिराता को मिट्टी के बर्तन बनाने की पारंपरिक जापानी कला में दिलचस्पी थी। उन्होंने 85 साल की उम्र में डिस्टेंस लर्निग कोर्स में नाम लिखवा लिया। उन्हें अपनी डिग्री पूरी करने में 11 साल लगे।

हिराता के बारे में जानकारी….

हिराता का जन्म एक सितंबर, 1919 को हिरोशिमा में हुआ था और द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान उन्होंने नौसेना में सेवाएं दीं।
युद्ध खत्म होने के बाद उन्होंने 1980 के दशक में सेवानिवृत्त होने तक टाकामात्सु अस्पताल में बतौर सुरक्षाकर्मी काम किया।
उनके दो बच्चे व नौ नाती-पोते हैं। उन्होंने मजाक में कहा, “मेरा अगला लक्ष्य 100 साल तक जिंदा रहना है।”

loading...
शेयर करें