#ISIS छोड़कर भाग रहे 45 जिहादियों को जिंदा दफन किया

0

बगदाद। दुनिया के सबसे क्रूर आतंकवादी संगठन ISIS ने अपने ही 45 जिहादियों को जिंदा दफन कर दिया। इन पर आरोप था कि ये ये सभी इराक में संगठन का साथ छोड़कर भागने वाले थे।

यह भी पढ़े : बच्चों का ब्रेनवॉश करने के लिए #ISIS ने बनाया खतरनाक एप

जिंदा दफन
सांकेतिक फोटो

जिंदा दफन करने के बनवाई एक ही कब्र

स्थानीय खबरों के मुताबिक सभी 45 आतंकियों को एक साथ एक कब्र में धकेल दिया गया और इनके ऊपर मिट्टी डाल दी गई। 45 आतंकियों को दफनाने के कार्रवाई इराक के निनवेह प्रांत में हुई।

अपने बंदियों को जिंदा दफन करने का काम इस्लामिक स्टेट ने पहली बार किया है। अभी तक इस्लामिक स्टेट छोड़कर भागने वालों का या तो सिर कलम कर दिया जाता था या फिर उनको गोली मार दी जाती है। पहली बार अपने आतंकियों को आईसिस ने जिंदा दफन किया है।

इराकी न्यूज के अनुसार इस्लामिक स्टेट का कहना है कि एक ही कब्र में दफनाए गए सभी जिहादी दक्षिण किरकुक में अल बशीर से लड़ाई का मैदान छोड़कर भागे थे।  इन सभी को निनवेह प्रांत के क्यारा इलाके में जिंदा दफन किया गया।

ISIS को इस इलाके में पिछले कुछ समय से बड़ी हार झेलनी पड़ रही है। इराक के मोसुल इलाके में भी संगठन का दबदबा टूट रहा है। पश्चिमी देशों के हवाई हमलों से इस्लामिक स्टेट की नींदें उड़ गई हैं। संगठन छोड़ने वालों की संख्या भी बढ़ रही है।

इस्लामिक स्टेट को लगता है कि इस तरह की सजा देने से लोगों में एक बार उसका खौफ पैदा होगा। साथ ही जो लोग संगठन का साथ छोड़ने की तैयारी कर रहे हैं उनमें भी डर पैदा होगा।

बगदाद के पास कार बम धमाके में 88 की मौत

इस बीच ISIS ने राजधानी बगदाद के पास हुए उस कार बम धमाके की जिम्मेदारी ली है जिसमें 88 लोगों की मौत हो गई थी।

धमाका बगदाद के कॉमर्शियल इलाके में हुआ। उस वक्त वहां काफी भीड़ थी। इराक में हाल के समय में हुआ ये सबसे बड़ा धमाका था। धमाके के थोड़े समय बाद ही ISIS ने इसकी जिम्मेदारी ली।

loading...
शेयर करें