कश्मीर में प्रदर्शनकारियों ने जिलाधिकारी के कार्यालय में आग लगाई, 50 घायल

0

श्रीनगर। दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के जिलाधिकारी कार्यालय में अनियंत्रित प्रदर्शकारियों ने रविवार सुबह आग लगा दी। इस दौरान सुरक्षा बलों के साथ हुई झड़पों में कम से कम 50 लोग घायल हो गए।

तनाव उस समय उत्पन्न हुआ, जब सुरक्षा बलों ने पिंजुरा गांव में एक आजादी समर्थक रैली को रोकने की कोशिश की। स्थानीय मस्जिद के लाउडस्पीकर से लोगों को प्रदर्शन में शामिल होने के लिए कहा गया, जिसके बाद बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गए।

जिलाधिकारी कार्यालय

जिलाधिकारी कार्यालय में लगायी आग

बाद में प्रदर्शनकारियों ने शोपियां शहर में लघु सचिवालय में आग लगा दी, जिसमें जिलाधिकारी और कई जिलास्तरीय अधिकारियों के कार्यालय हैं। घटना के समय लघु सचिवालय में कोई कर्मचारी उपस्थित नहीं था।

सुरक्षा बलों ने जब प्रदर्शकारियों को लघु सचिवालय के भवन में आग लगाने से रोका तो दोनों पक्षों में झड़पें हुईं, जिसमें प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों समेत करीब 50 लोग घायल हो गए।

इस बीच, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के नेतृत्व में 28 सदस्यीय सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल यहां पहुंच गया है, जो घाटी में जमीनी हालात का जायजा लेगा और शांति उपायों की तलाश करेगा। इसके सदस्य विभिन्न स्थानीय नेताओं से भी मिलेंगे।राजनाथ ने एक ट्वीट में कहा, “हम उन सभी लोगों और संगठनों से बात करना चाहते हैं, जो कश्मीर घाटी में शांति और सामान्य स्थिति चाहते हैं।”

घाटी में पिछले 58 दिन से जारी तनाव, हिंसा व बंद के मद्देनजर कर्फ्यू व प्रतिबंध के बीच आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। यहां हिंसा व उपद्रव की शुरुआत आठ जुलाई को हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी के सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे जाने के बाद नौ जुलाई से हुई। हिंसा में अब तक 74 लोगों की मौत हो चुकी है, जिसमें 71 नागरिक और तीन स्थानीय पुलिसकर्मी हैं।

loading...
शेयर करें