खुशखबरी: जून में महंगाई दर घटी, बनाया नया रिकॉर्ड

0

नई दिल्‍ली। जून में रिटेल महंगाई दर 1.54 प्रतिशत निचले स्तर पर पहुंच गई है। इससे पहले मई में यह 2.18 प्रतिशत थी। वहीं दूसरी ओर मई में औद्योगिक उत्पादन (IIP) की वृद्धि दर घटकर 1.7 प्रतिशत रही। पिछले साल समान महीने में यह 8 प्रतिशत पर थी।

जून में रिटेल महंगाई दर

जून में रिटेल महंगाई दर घटने से होगा फायदा

वहीं अप्रैल महीने में औद्योगिक उत्‍पादन की वृद्धि दर 3.1 प्रतिशत रिकॉर्ड की गई थी। इसकी एक वजह सरकार द्वारा मई माह में आधार वर्ष 2004-05 से बदलकर 2011-12 करना भी है।

लगातार घट रही महंगाई

मई में मैन्‍यूफैक्‍चरिंग सेक्‍टर की वृद्धि दर घटकर 1.2 प्रतिशत रही, जो अप्रैल में 2.6 प्रतिशत थी। कंज्‍यूमर ड्यूरेबल्‍स की वृद्धि दर मई में गिरकर 4.5 प्रतिशत रही, जो इससे पहले माह अप्रैल में 6 प्रतिशत थी। इसी प्रकार मई माह में माइनिंग प्रोडक्‍शन घटकर 0.9 प्रतिशत रहा, जो कि अप्रैल में 4.2 प्रतिशत था।

महंगाई घटने से होगा फायदा

आर्थिक गतिविधियों को और अधिक सही तरीके से देखने और वास्‍तविक आंकड़ों की जांच के लिए आईआईपी के आधार वर्ष में बदलाव करना बहुत जरूरी था। औद्योगिक उत्‍पादन को इंडेक्‍स ऑफ इंडस्ट्रियल प्रोडक्‍शन (IIP) के जरिये मापा जाता है और इससे देश के कारोबारी क्षेत्र में आर्थिक गतिविधियों को आंका जाता है। नई सिरीज में, मैन्‍यूफैक्‍चरिंग सेक्‍टर का अधिभार 75.5 प्रतिशत से बढ़ाकर 77.6 प्रतिशत किया गया है। बिजली की हिस्‍सेदारी इंडेक्‍स में 10.3 प्रतिशत से घटाकर 7.9 प्रतिशत की गई है और इसमें रिन्‍यूएबल एनर्जी सोर्स के डाटा को शामिल किया गया है।

loading...
शेयर करें