जेएनयू में शहीदों को श्रद्धांजलि देने वाले प्रोफेसर की कार पर हमला, RSS और वाम मोर्चा आमने-सामने

0

नई दिल्ली। जेएनयू एक बार फिर विवादों में छा गया है। पहले कन्‍हैया कुमार की वजह से चर्चित हुआ और अब शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए विवाद में छाया। जेएनयू में शहीदों को श्रद्धांजलि देना एक असिस्‍टेंट प्रोफेसर को भारी पड़ गया। मामला यह है कि श्रद्धांजलि सभा के बाद वामपंथियों ने प्रोफेसर की गाड़ी पर पथराव का आरोप लगा है।

जेएनयू में शहीदों को श्रद्धांजलि सभा के बाद हुआ बवाल

दिल्‍ली के जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में असिस्टेंड प्रोफेसर बुद्ध सिंह ने आरोप लगाया है कि कार का शीशा, शहीद हुए जवानों के लिए जेएनयू में शोकसभा के आयोजन की वजह से फोड़ा गया है। इस मामले में पुलिस ने शिकायत दर्ज कर दी गई है। लेकिन घटना के बाद राजनीति तेज हो गई है। एबीवीपी और वामपंथी इस मामले में आमने-सामने हैं।

सोशल मीडिया पर हो रही लड़ाई

सिर्फ कैंपस में ही नहीं बल्कि सोशल मीडिया पर भी ये लड़ाई खुलकर हो रही है। जेएनयू पिछले साल फरवरी में विवाद में आया था। तब भारतीय संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरू के समर्थन में कार्यक्रम हुआ और जिसमें देश विरोधी नारे लगे थे।

कन्‍हैया कुमार ने भी जेनएयू को बनाया चर्चित

इस मामले में कन्हैया कुमार और साथियों पर देशद्रोह का मुकदमा तक दर्ज हुआ था। इसी के बाद से जेएनयू कैंपस में लगातार विरोध-प्रदर्शन और हंगामे का माहौल बना हुआ है।

loading...
शेयर करें