जैश ए मोहम्‍मद पर पाकिस्तान सख्त या‍ सिर्फ दिखावा

जैश ए मोहम्‍मदनई दिल्ली/इस्लामाबाद। जैश ए मोहम्‍मद के खिलाफ पाकिस्‍तान सख्‍त रुख अपना रहा है। सूत्रों के मुताबिक पाकिस्‍तान की सरकार और फौज ने आदेश जारी किया है कि वहां के पंजाब प्रांत में जैश ए मोहम्‍मद का पूरा नेटवर्क नेस्‍तोनाबूत कर दिया जाए। हालांकि इसके विपरीत पाकिस्‍तान के ही एक मंत्री ने पाकिस्‍तान की नीयत पर सवाल उठा दिए हैं। उन्‍होंने कहा है कि पाकिस्‍तान जैश ए मोहम्‍मद पर सिर्फ दिखावा कर रहा है।

जैश ए मोहम्‍मद पर कार्रवाई सच या दिखावा

पाकिस्‍तान ने पिछले कई दिनों से लगातार यह दिखाने की कोशिश की है कि वह आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्‍मद के खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रतिबद्ध है। पाकिस्‍तान ने अभी दो दिन पहले यह दिखाने की कोशिश की कि उसने जैश ए मोहम्‍मद के सरगना मसूद अजहर को गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन आज आई खबर के मुताबिक उसे गिरफ्तार नहीं बल्कि सुरक्षात्‍मक हिरासत में रखा गया है। ये बात आज पाकिस्‍तान के पंजाब प्रांत के कानून मंत्री राणा सनाउल्लाह ने बताई।

कानून मंत्री सनाउल्लाह ने कहा कि जैश ए मोहम्‍मद का सरगना मसूद अजहर और उसके साथियों को एहतियातन हिरासत में लिया गया है। उन्होंने पाकिस्तान के एक अखबार से कहा कि आतंकी मसूद अजहर को पंजाब पुलिस के आतंकवाद निरोधक विभाग ने एहतियातन हिरासत में लिया है। इससे पहले पाकिस्तान की नवाज सरकार ने इन खबरों की न तो पुष्टि की और न ही इनकार किया कि अजहर को एहतियातन हिरासत में लिया गया है।

भारत की शर्तों पर होगी जांच

पाकिस्तान एसआईटी के एक अधिकारी के हवाले से पाकिस्तान के अखबार द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने लिखा है कि जल्द ही टीम मेंबर्स की एक बैठक होगी। इसमें तय होगा कि भारत जिन शर्तों पर जांच टीम को आने की इजाजत देगा, उन पर काम किया जाए। मुंबई हमलों की जांच के दौरान भी पाकिस्तानी टीम ने भारत आने की इच्छा जताई थी, लेकिन भारत सरकार ने तुरंत इजाजत नहीं दी थी।

अखबार ने पीएम हाउस के सूत्रों के हवाले से यह आदेश जारी होने का दावा किया है। साथ ही कहा है कि पाकिस्तान और भारत की स्पेशल जांच टीमें भी एक दूसरे के मुल्क जाएंगी और इसकी मध्यस्थता दोनों देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और उनके पाकिस्तानी समकक्ष नसीर जांजुआ करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button