आधार कार्ड सहित जैश कमांडर अब्दुल रहमान गिरफ्तार

0

श्रीनगर। भारतीय सेना के जवानों ने एक बार फिर पाकिस्‍तान के मंसूबों पर पानी फेरा है। सुरक्षाबलों ने बारामूला से जैश कमांडर अब्दुल रहमान को हिरासत में लिया है। चौंकाने वाली बात यह है कि अब्‍दुल रहमान के पास आधार कार्ड बरामद हुआ है।

जैश कमांडर अब्दुल रहमान

जैश कमांडर अब्दुल रहमान की पठानकोट हमले में भूमिका संदिग्‍ध

पुलिस ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। खबर यह भी मिली है कि पठानकोट हमले में भी जैश कमांडर अब्दुल रहमान की भूमिका रही है। पुलिस जैश कमांडर अब्‍दुल रहमान से इस मामले में भी जानकारी लेगी।

अधिकृत कश्‍मीर का है नागरि‍क

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने यह जानकारी दी है कि अब्दुल रहमान पाकिस्तान अधि‍कृत कश्मीर का नागरिक है, जो जम्मू-कश्मीर में जैश के आतंकी गतिविधि‍यों का संचालन कर रहा था। आतंकी को शुक्रवार शाम को बारामूला के हाजीबल से गिरफ्तार किया गया।

इस साल फरवरी में दाखिल हुआ घाटी में

पुलिस ने बताया कि अब्दुल रहमान मुजफ्फराबाद का रहने वाला है और इस साल फरवरी में ही घाटी में दाखि‍ल हुआ था। आतंकी को जैश के छह लोगों के समूह में शामिल फिदायीन बताया गया है।

आधार कार्ड में शबीर है नाम

गिरफ्तार जैश कमांडर को लेकर सबसे चौंकाने वाली बात उसके पास से आधार कार्ड का बरामद होना है। इसमें उसका नाम शबीर अहमद खान बताया गया है और पिता का नाम गुलाम रसूल खान है। बरामद कार्ड का नंबर 647856225315 है। पुलिस का कहना है कि वह आधार कार्ड की सत्यता की जांच कर रही है।

आधार कार्ड की हो रही जांच

पुलिस ने कहा कि हम फिलहाल इस बात की जांच कर रहे हैं कि जैश कमांडर अब्दुल रहमान ने आधार कार्ड कहां से प्राप्त किया। संभव है कि यह कार्ड फर्जी हो। कार्ड की सत्यता की जांच की जा रही है। अगर यह असली पाया जाता है तो यह देश की सुरक्षा को लेकर गंभीर खतरे की ओर इशारा करता है। साथ ही सुरक्षा एजेंसियों को इस ओर सर्तक होने की जरूरत है।

रेड अलर्ट जारी

इस बीच जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में पहाड़पुर और चूरगली इलाके में आतंकियों की घुसपैठ को लेकर रेड अलर्ट जारी किया गया है। खुफिया सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तानी सीमा से कुछ आतंकी घुसपैठ की कोशिश कर सकते हैं। बताया जाता है कि अतंकी जम्मू और पंजाब के महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों पर हमला कर सकते हैं।

जैश आतंकी सिदिक के पास भी था आधार कार्ड

फरवरी महीने में पुलिस ने बारामूला के कानिपुरा से जैश आतंकी मोहम्मद सिदिक को गिरफ्तार किया था। 18 साल का सिदिक पाकिस्तान के सियालकोट का रहने वाला है। वह भी फिदायीन दस्ते का सदस्य था। पुलिस को इस आतंकी के पास से भी आधार कार्ड मिला था।

loading...
शेयर करें