झांसी में सीएम योगी ने किया ऐलान, अब कोई भूखा नहीं सोएगा

0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को बुंदेलखंड के दौरे पर थे। इस दौरान उन्‍होंने झांसी में एक सभा को संबोधित भी किया। झांसी में सीएम योगी ने कहा कि प्रचंड जीत के बाद सरकार की जिम्मेदारी बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि अगले 2 सालों में बुंदेलखंड से पानी की कमी की समस्या को खत्म कर देंगे।

झांसी में सीएम योगी

झांसी में सीएम योगी ने किए बड़े ऐलान

सीएम योगी ने बिजली विभाग के अधिकारियों को आदेश दिया कि 48 घंटे के अंदर बुंदेलखंड में खराब पड़े बिजली के टांसफॉर्मर को या तो ठीक किया जाए या फिर उसे बदला जाए। सीएम ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि बुंदेलखंड को दिल्ली के साथ 6 लेन एक्सप्रेस-वे से जोड़ा जाएगा।

अब कोई भूखा नहीं सोएगा

उन्होंने कहा कि सूबे में अब कोई भूखा नहीं सोएगा। गरीब और बेसहारा लोगों के लिए राशन कार्ड बनाए जाएंगे। सीएम ने कहा कि भ्रष्टाचार से कोई समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं ने कहा कि वे जनता की सेवा के लिए काम करें और कानून को अपने हाथ में नहीं लें कार्यकर्ता।

सिविल अस्‍पताल का किया निरीक्षण

इससे पहले सीएम योगी ने झांसी पहुंचते ही सिविल अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। इसके बाद वह स्थानीय अनाज मंडी के लिए रवाना हो गये। सीएम बनने के बाद योगी का यह पहला बुंदेलखंड का दौरा है. झांसी में सीएम योगी ने अनाज मंडी में गेंहू क्रय केंद्र का भी निरीक्षण किया। सीएम ने क्रय केंद्र में मौजूद कई अधिकारियों को फटकार भी लगाई। सीएम योगी ने बुंदेलखंड में दो किसानों के खुदखुशी करने पर रिपोर्ट मांगी है।

प्राइमरी स्कूल पहुंचे योगी

अस्पताल और गेंहू क्रय केंद्र के निरीक्षण के बाद सीएम योगी एक प्राइमरी स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे। सीएम ने यहां मिड-डे मील की जानकारी ली और क्लास में पीने के पानी का जायजा लिया। योगी ने वहां मौजूद बच्चों से भी बात की।

किसान संगठन गिनाएंगे अपनी शिकायतें

सीएम योगी के इस दौरे के दौरान उनसे किसानों का समूह से मिल सकते हैं। भारतीय किसान यूनियन का कहना है कि पिछले 22 महीने में लगभग 850 किसानों से खुदखुशी की है, जिसमें से 178 को मुआवजा मिल पाया है। किसानों के अनुसार उन्हें बिजली के बिल में छूट नहीं मिल रही है, किसानों ने कहा कि क्योंकि उनकी भूमि अभी उपजाऊ नहीं है तो इसी कारण से उन्हें कर्ज माफी का लाभ नहीं मिल पाएगा।

बुंदलेखंड पर विशेष ध्यान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी चुनावी रैली में कहा था कि अगर यूपी में बीजेपी की सरकार बनती है तो विकास का 14 साल का वनवास खत्म होगा और यूपी को देश के विकास का इंजन बनाया जाएगा। योगी सरकार ने बुंदेलखंड के लिए पेयजल परियोजना का ऐलान किया है। इसके साथ ही योगी सरकार ने बुंदेलखंड को 20 घंटे बिजली देने का ऐलान भी किया है।

बहुत पिछड़ा इलाका है बुंदेलखंड

बुंदेलखंड उत्तर प्रदेश का सबसे पिछड़ा और गरीब इलाका माना जाता है, बुंदेलखंड में किसानों की आत्महत्या बढ़े दर्जे पर होती है। चुनाव के दौरान भी बुंदेलखंड का विकास काफी अहम मुद्दा था। केंद्र की मोदी सरकार और राज्य की योगी सरकार इसलिये बुंदेलखंड पर विशेष ध्यान दे रही है। बुंदेलखंड का यूपी में काफी महत्व है, चुनाव के दौरान बीजेपी और पीएम मोदी ने बुंदेलखंड पर विशेष ध्यान देने की बात कही थी।

loading...
शेयर करें