टमाटर से दूर भागती है एसिडिटी से लेकर कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी

0

लंदन।  टमाटर के रस से होने वाले फायदे के बारे में तो आपने खूब सुना होगा। जैसे एसिडिटी की शिकायत होने पर टमाटरों की खुराक बढ़ाने से ये शिकायत दूर हो जाती है। इसके अलावा ये आंखों के लिये भी बहुत लाभकारी होता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि टमाटर का रस पेट के कैंसर को रोकने में बहुत कारागार साबित होता है।

टमाटर के रस

टमाटर के रस में कैंसर सेल्स को रोकने की होती है क्षमता

हाल ही में हुए एक रिसर्च में ये बात सामने आई है कि टमाटर का रस ऐसे कैंसर सेल्स जिनसे पेट का कैंसर होता है उनके विकास और क्लोनिंग को रोकता है। जिससे इस घातक बीमारी से लड़ने में मदद मिल सकती है। रिसर्चर बताते हैं कि टमाटर के अर्क या निचोड़ में पेट के कैंसर सेल्स को रोकने की क्षमता है।

पेट के कैंसर के इलाज में टमाटर के पूरे अर्क का इस्तेमाल करने से कैंसर सेल्स की मुख्य प्रक्रिया प्रभावित होती है, उनकी स्थानांतरण की गतिविधि कम हो जाती है और आखिरकार कैंसर सेल्स अपनी ही मौत मरने लगते हैं।

इटली के यूनिवर्सिटी ऑफ सिएना के प्रफेसर, ऐनटोनियो गियोरडानो ने कहा, ‘हमारे नतीजे इस बात की ओर इशारा करते हैं कि हमें इस मामले में आगे और जांच की आवश्यकता है ताकि कैंसर से बचाव में कुछ विशेष पोषक तत्वों के संभावित इस्तेमाल का मूल्यांकन किया जा सके। इसे पारंपरिक चिकित्सा पद्धति को सहयोग देने वाले उपाय के तौर पर देखा जा सकता है।’

गैस्ट्रिक कैंसर यानी पेट का कैंसर दुनिया का चौथा सबसे कॉमन कैंसर है जिसका मूल कारण जेनेटिक प्रॉब्लम और हमारा खानपान का तरीका है, जिसमें स्मोक्ड और सॉल्टेड फूड का अधिक इस्तेमाल शामिल है। दुनियाभर में लोग खाने में टमाटर का इस्तेमाल करते हैं और मेडिटेरेनिएन डायट का तो यह सबसे मुख्य हिस्सा है। लिहाजा टमाटर के बारे में मशहूर है कि यह कैंसर के रिस्क को कम करता है।

loading...
शेयर करें