अब स्कूल से नहीं गोल हो पाएंगे टीचर, तीसरी आंख रखेगी नजर

0

नई दिल्ली। नॉर्थ एमसीडी की तरफ से अब नया निर्देश जारी किया गया है। इसके अंतर्गत अभी तक स्कूलों में पढ़ाने वाले टीचर्स बिना बताये गायब हो जाते थे। लेकिन अब वो ऐसा नहीं कर सकेंगे न ही स्कूल से छुट्टी लेने के लिए कोई बहानेबाजी कर पाएंगे।

टीचर्स की अटेंडेंस

टीचर्स की अटेंडेंस को सुधारने के लिए नॉर्थ एमसीडी की नयी पहल

दरअसल नॉर्थ एमसीडी ने सभी स्कूलों में ऑनलाइन अटेंडेंस मॉनिटरिंग प्रोसेस शुरू किया है। इसके जरिये सभी टीचर्स की अटेंडेंस पर नजर रखी जाएगी कि वो कितनी छुट्टी ले रहे हैं। इतना ही नहीं इस प्रोसेस से एजुकेशन विभाग के सीनियर अफसर ही नहीं बल्कि स्कूलों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स के पेरेंट्स भी टीचर्स पर नजर रख सकेंगे।

नॉर्थ एमसीडी के एजुकेशन विभाग की अडिशनल कमिश्नर रेनू के. जगदेव के अनुसार स्कूलों में बिगड़ते हालात को सुधारने के लिए नॉर्थ एमसीडी ने एक नयी पहल की है। जिसमें पहली बार ऑनलाइन अटेंडेंस मॉनिटरिंग प्रोसेस शुरू किया जा रहा है।

उन्होंने ये भी बताया कि एजुकेशन विभाग के डायरेक्टर कृष्ण कुमार ने इस तरह की पहल करने की पूरी प्लानिंग की थी। उन्होंने एक ऐसा सॉफ्टवेयर तैयार करवाया है, जिससे उत्तरी दिल्ली के जितने भी स्कूल और उनमें पढ़ाने वाले टीचर्स हैं, उनकी स्कूलों में उपस्थिति कोई भी घर बैठे देख सकता है।

उन्होंने ये भी कहा की ये प्रोसेस इसलिए शुरू किया गया है कि लोगों की शिकायत रहती ,है जो भी स्टूडेंट्स एमसीडी स्कूलों में पढ़ते हैं उनको पढ़ाने के लिए वहां टीचर्स नहीं आते हैं। इस वजह से स्कूलों में न ही कोर्स कंपलीट हो पता है और न ही एजुकेशन लेवल बढ़ पा रहा है।

बता दें, नॉर्थ एमसीडी के 6 जोन में कुल 716 स्कूल हैं जिनमें टीचर्स की कुल संख्या 6647 है। इन स्कूलों में पढने वाले स्टूडेंट्स की संख्या 2 लाख 96 हजार 882 है। इस समय गर्मी की छुट्टियां चल रही हैं। स्कूल खुलते ही ये नियम लागू हो जायेगा।

स्कूल खुलते ही सभी अफसरों की की नजर हर टीचर की अटेंडेंस पर होगी। कोई भी टीचर अगर बिना बताये छुट्टी लेता है तो उसपर कारण बताओ नोटिस जारी किया जायेगा। अगर कारण बताओ नोटिस में भी रीज़न साफ़ नहीं आएगा तो उस टीचर के खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है। टीचर्स की अटेंडेंस देखने के लिए एमसीडी की वेबसाइट (mcdonline.gov.in) पर लॉगइन करना होगा।

loading...
शेयर करें