तीसरी तिमाही में टीसीएस ने चौंकाया

0

मुम्बई। टीसीएस ने अच्छे वित्तीय परिणाम जारी कर सभी को चौंका दिया है। तीसरी तिमाही में कंपनी ने खराब कारोबारी माहौल के बाद भी अच्छा वित्तीय प्रदर्शन किया है। तीमाही आधार पर टीसीएस का नेट प्रॉफिट अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में 2.9 फीसदी बढ़कर 6,778 करोड़ रुपए रहा। बाजार विश्लेषकों को इस तिमाही में 6,432 करोड़ रुपए का मुनाफा होने की उम्मीद थी।
अच्छा प्रदर्शन
इससे पहले सितंबर तिमाही में टीसीएस का शुद्ध मुनाफ 6,586 करोड़ रुपए था। अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू सालाना आधार पर 1.55 फीसदी बढ़कर 29,735 करोड़ रुपए रहा। चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू 29,280 करोड़ रुपए था। कंपनी ने बताया कि तीसरी तिमाही में उसका डॉलर रेवेन्यू 4,38.7 करोड़ डॉलर रहा। तीसरी तिमाही में कंपनी का एबिट मार्जिन 26 प्रतिशत रहा, जो इससे पहले तिमाही में 26.01 प्रतिशत था। एक करोड़ डॉलर वाले ग्रुप में कंपनी ने पांच नए ग्राहक जोड़े हैं, वहीं 50 लाख डॉलर की श्रेणी में दो नए ग्राहक जुड़े हैं।
18 हजार को नौकरी दी
बीएसई को दी गई जानकारी में कंपनी ने बताया कि तीसरी तिमाही में एट्रीशन रेट (कर्मचारियों के कंपनी छोड़ने की दर) 11.3 प्रतिशत रहा। अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में कंपनी ने 18,362 नए कर्मचारियों को अपने साथ जोड़ा है। दिसंबर अंत तक टीसीएस के कुल कर्मचारियों की संख्या 3,78,497 थी।
साउथ इंडियन बैंक को 111 करोड़ रुपये का मुनाफा
निजी क्षेत्र के साउथ इंडियन बैंक ने बुधवार को कहा कि समाप्त हुई तिमाही में उसे 111.38 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) में दाखिल एक नियामक में बैंक ने कहा कि 31 दिसंबर, 2016 को समाप्त हुई तिमाही में उसे 111.38 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ, जबकि पिछले साल की समान अवधि में उसे 101.63 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। अंतिम तिमाही में बैंक की कुल आय 1,737.47 करोड़ रुपये रही, जबकि पिछले साल की समान अवधि में उसकी आय 1,560.98 करोड़ रुपये थी।

loading...
शेयर करें