भारतीय सेना हुई और मजबूत, पास नहीं आएगा कोई दुश्मन

नई दिल्ली। भारतीय सेना अब और मजबूत होने जा रही है। अरब सागर में भाीतय नौसेना के जवान युद्ध अभ्‍यास कर रही है। इस सभ्‍यास में करीब 40 हजार सैनिक शामिल हैं। ये ट्रोपेक्स-2017 नाम की थियेटर लेवल एक्सरसाइज है जिसमें नौसेना के साथ-साथ थलसेना, वायुसेना और कोस्टगार्ड भी हिस्सा ले रही है।

ट्रोपेक्स-2017

ट्रोपेक्स-2017 में एक महीने से ले रहे ट्रेनिंग

एक महीने तक चलने वाली इस ट्रोपेक्स-2017 एक्सरसाइज में युद्ध जैसी स्थिति बनाई गई है। ये इसलिए कि अगर कोई युद्ध होता है तो हमारी सेनाएं एक साथ मिलकर किस तरह से इस ऑपरेशन को अंजाम देंगी।

युद्ध जैसी बनाई गई स्थिति

24 जनवरी से मुंबई और गोवा सहित पूरे पश्चिमी तट से शुरु हुआ ये युद्धभ्यास अरब सागर में लांच किया गया है। इस युद्धभ्यास में नौसेना के करीब 60 युद्धपोत, पांच पनडुब्बियां और करीब 70 लड़ाकू विमान और हेलीकॉप्टर हिस्सा ले रहे हैं।

आईएनएस चक्र भी हुआ शामिल

नौसेना के मुताबिक इस युद्धभ्यास में नौसेना की दोनों फ्लीट, पूर्वी और पश्चिम हिस्सा ले रही हैं। एयरक्राफ्ट कैरियर सहित आईएनएस विक्रमादित्य, जलाश्व, शिवालिक क्लास शिप, तलवार क्लास और परमाणु पनडुब्बी, आईएनएस चक्र हिस्सा ले रही है।

हर साल होती है ट्रेनिंग

हर साल जनवरी से मार्च के महीने में नौसेना इस तरह का युद्धभ्यास करती है, लेकिन ये युद्धभ्यास इस मायने में अहम है क्योंकि हाल ही में तीनों सेनाओं के कमांर्डस कांफ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तीनों सेनाओं को मिलाने की बात की थी।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button