ट्विटर फैला रहा आतंकवाद, आईएस उठा रहा फायदा

फ्लोरिडा। ट्विटर के खिलाफ फ्लोरिडा की एक महिला ने मुकदमा दायर किया है। इसमें आरोप लगाया गया है कि कंपनी के सोशल मीडिया प्लेटफार्म के माध्यम से इस्लामिक स्टेट (आईएस) दुनिया भर में अपनी विचारधारा फैला रहा है और नई भर्तियां कर रहा है।

ट्विटर

ट्विटर पर आईएस को पनाह

वायर्ड.कॉम में के अनुसार, महिला तमार फिल्ड्स ने ट्विटर पर मुकदमा किया है। उसका पति पिछले साल नवंबर में जॉर्डन के अम्मान में हुए आतंकवादी हमले में मारा गया था। उसका कहना है कि ट्विटर सबकुछ जानते हुए भी आईएस की मदद कर रहा है और सदस्यों की भर्तियां कर रहा है।

पढ़ें : सुनिए SEX की लाइव कमेंट्री

ट्विटर के प्रवक्ता ने एक बयान जारी कर कहा कि मुकदमे में दम नहीं है। हम उस परिवार में हुए हादसे पर गहरा दुख प्रकट करते हैं। बयान में कहा गया कि हमारे नियमों में यह बिल्कुल साफ है कि हम किसी प्रकार के चरमपंथी समूह को बढ़ावा नहीं देते। वहीं, फिल्ड्स ने अदालत से गुजारिश की है कि इस मामले में आतंकवाद-रोधी कानून के तहत कार्रवाई की जाए।

बता दें कि ट्विटर ने अपमानजनक और हिंसक संदेश वाले ट्वीट रोकने की कोशिश के तहत अपनी नीति में संशोधन किया है। इसके लिए पूरा का पूरा सिस्‍टम तैयार किया गया है। इसकी जानकारी एक ब्लॉग पोस्ट के जरिये दी। ब्लॉग में कहा गया है कि वह अपमानजनक और हिंसक संदेश को ट्वीट करने वाले लोगों की पहचान करेगा और उन्हें सोशल नेटवर्क से बाहर कर देगा।

हाल में आतंकवादियों द्वारा आतंकवादी संगठनों में भर्तियों और द्वेषपूर्ण भाषण के लिए सोशल मीडिया के इस्तेमाल की खबरें बढ़ने के कारण यह नीति बनाई गई है। इस पर आधारित ब्लॉग पोस्ट में कहा गया है कि संशोधित नीति में इस बात पर अधिक जोर दिया गया है कि ट्विटर आपत्तिजनक, हिंसक संदेशों को बर्दाश्त नहीं करेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button