डकैत को ग्रामीणों ने पीट कर मार डाला

गोरखपुर। जनपद मुख्यालय से सटे जंगल सुभान अली गांव में बीती रात डकैतों के एक गिरोह ने एक परिवार पर हमला बोल कर डेढ़ लाख की डकैती की। परिवार के सदस्यों के साथ मारपीट के दौरान ग्रामीणों ने शोर सुनकर मकान की घेरेबन्दी शुरू की तो डकैत मौका पाते ही भागने लगे। इस बीच पीड़ित परिवार ने एक डाकू को पकड़ लिया। आक्रोशित भीड़ ने डाकू की जमकर पिटाई की। बाद में पहुंची पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया जहां डाकू की मौत हो गई।

IMG-20160120-WA0009

डकैत ने किया राड से हमला

 

पिपराईच थानाक्षेत्र के जंगल सुभान अली गांव के खोड़वा टोले में बीती रात 3 बजे के करीब हुई वारदात पूरे जनपद में चर्चा का विषय है। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि तूफानी के घर पर 10-12 की संख्या में डकैतों ने हमला बोला। जब तूफानी ने शोर मचाया तो एक डकैत ने उनके ऊपर राड से हमला बोल दिया। इस बीच उनके परिवार के लोग भी शोर मचाने लगे। यह देख डकैत लूटा गया माल लेकर फरार हो गए लेकिन एक डाकू को तूफानी के बेटे बिरजू, दिनेश और रामौंद ने मिलकर पकड़ लिया। इस प्रयास में डकैतों ने इस परिवार के सदस्य गायत्री देवी, तूफानी, बिरजू, रामौद और दिनेश पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया। जब ग्रामीणों ने घायलों की दशा देखी तो उनका आक्रोश बढ़ गया और उन्होंने पकड़े गये डाकू की जमकर पिटाई कर दी। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने घायल ग्रामीणों और पकड़े गये डकैत को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पिपराईच में भर्ती कराया जहां डाकू ने दम तोड़ दिया।

इस बीच, पीड़ित परिवार के सभी सदस्यों का इलाज जारी है। परिवार के लोगों का कहना है कि डकैतों ने एक लाख का जेवर और शादी के लिए घर में रखे 50 हजार रुपया लूट लिया। अगर ग्रामीण समय से न जुटते तो पूरे परिवार को जान से हाथ धोना पड़ता। बहरहाल क्षेत्र के लोग ग्रामीणों के इस साहस को सलाम कर रहे हैं।

वरीक्षा के लिए रखे गये थे पैसे

 

पीड़ित तूफानी का कहना है कि जो पैसे डकैतों ने लूटे हैं वह उनकी बेटी पुष्पा की शादी के लिए रखे गए थे। इसी हफ्ते पुष्पा के लिए वरीक्षा का कार्यक्रम तय था। शादी अप्रैल में होनी है लिहाजा जेवर भी अभी से बनवा लिये गये थे। परिवार को यह भी शक है कि किसी की सटीक मुखबिरी से ही इस घटना को अंजाम दिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button