IPL
IPL

डबल मर्डर : कोर्ट से जेल तक पिटी सेक्‍स की ये भूखी बीवी

पति और बेटे के डबल मर्डर में आरोपी अर्चना और उसके आशिक के लिए शनिवार का दिन दर्दनाक रहा। दोनों काे तीन बार पीटा गया। जहां भी लोगों ने उन्‍हें खुले में पाया, वहां पीटा। पहले कोर्ट में जाते वक्‍त। फिर कोर्ट से निकलते वक्‍त। इन दोनों का जुर्म इतना गंदा था कि जेल में भी मुजरिमों ने उन पर रहम नहीं खाया।

डबल मर्डर

डबल मर्डर का डर्टी ड्रामा

गोरखपुर में नेत्र परीक्षक आेमप्रकाश यादव और उनके चार साल के बेटे नितिन की हत्‍या में आरोपी अर्चना और उसके आशिक अजय यादव को शनिवार को कोर्ट ले जाया गया। दोपहर बाद साढ़े तीन बजे कोर्ट परिसर में पहुंचते ही कुछ वकीलों की नजर उन पर पड़ गई। वकील अपने साथी से जुड़े एक मामले में हड़ताल पर थे। लेकिन जैसे ही अर्चना और उसका आशिक कोर्ट परिसर में पहुंचे, वकील उन पर टूट पड़े। वकीलों ने दोनों का स्‍वागत थप्‍पड़ोंं से किया। किसी तरह से पुलिस ने उन्‍हें वकीलों की भीड़ से निकाला और कोर्ट में पेश किया।

मुख्‍य न्‍यायिक दण्‍डाधिकारी की कोर्ट ने अर्चना और अजय को 14 दिन की न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया। इसके बाद जैसे ही दोनों कोर्ट ने निकले, वकीलों ने दोबारा उन पर हमला कर दिया। 500 के करीब वकीलों ने दोनों को घेर लिया और खरी-खोटी सुनाने लगे। दोबारा पिटाई की नौबत आ गई। इस बीच फाेर्स मौके पर पहुंच गई और दोनों को मशक्‍कत कर कोर्ट परिसर से निकाला गया।

इसके बाद पुलिस अर्चना और उसके आशिक को जेल ले गई। यहां बंदीगृह तक उनके पहुंचने से पहले उनकी करतूत पहुंच चुकी थी। इस बार बारी कैदियों की थी। दोनों को जिस बैरक में बंद किया, वहां साथ के कैदियों ने दोनों की जबरदस्‍त पिटाई की। दोनों को अलग-अलग बैरक में रखा गया था। अजय की पिटाई पुरुषों के बैरक में हुई तो अर्चना की महिला बैरक में।

दोनों की पिटाई की सूचना जेल प्रशासन तक पहुंची तो उन्‍हें अलग-अलग तनहा बैरक में डाल दिया गया। इस बैरक में कोई और बंदी नहीं रहता। आरोप है कि फेसबुक पर मिले अजय से मिली अर्चना ने उसके साथ जीने के लिए अपने पति और चार साल के मासूम की हत्‍या कर दी। लेकिन अब उसे अपने दरिंदे आशिक से तो दूर कर ही दिया गया, साथ ही बेगुनाह पति और बेटे का साथ भी छूट गया।

डबल मर्डर

डबल मर्डर का पूरा सच

21 जनवरी को बेडरूम में मारे गए नेत्र परीक्षक ओमप्रकाश यादव और उनके चार साल के बेटे नीतिन उर्फ शिवा की हत्या की मास्टरमाइंड उनकी पत्नी अर्चना यादव ही निकली थी। पुलिस के दावों के अनुसार सेक्स के लिए इस औरत ने राह का कांटा बन रहे पति और बच्चे को एक दूसरे मर्द यानी कथित प्रेमी अजय यादव के साथ मिलकर रास्ते से हटा दिया। अपनी वासना की आग बुझाने के लिए खुले सैर पर निकलने की तैयारी कर रहे इन दोनों को गोरखपुर पुलिस ने एक साथ पकड़ा था। अर्चना और अजय यादव की दोस्‍ती फेसबुक पर हुई थी। अर्चना सेक्स की भूखी थी। उसने अपनी भूख मिटाने के लिए अजय को गोरखपुर आने का न्यौता दे दिया। आेमप्रकाश और नितिन के कारण दोनों मिल नहीं पा रहे थे, इसीलिए अर्चना ने अपने पति और बेटे की हत्‍या की साजिश रची।

 

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button