IPL
IPL

गोरखपुर में एक और हाईप्रोफाइल डबल मर्डर

गोरखपुर। महानगर के अशोकनगर मोहल्ले में एक हाईप्रोफाइल डबल मर्डर का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। नेत्र परीक्षक ओम प्रकाश यादव (40 ) और उनके बेटे नितिन (4 ) की सुबह बिस्तर पर लाश पायी गयी है। ऐसा लग रहा है कि दोनों की हत्या हथौड़े से कूचकर की गयी है। खून से सना हथौड़ा बिस्तर के पास पाया गया। घटना की सूचना पाकर मौके पर पुलिस पहुंच गई। फारेंसिक टीम और डाग स्क्वायड की मदद से जांच चल रही है।

IMG-20160121-WA0002

 ससुर है सीएम सिक्योरिटी में अफसर

 

जानकारी के मुताबिक ओमप्रकाश के ससुर यूपी के सीएम सिक्योरिटी में अफसर हैं। वहीं ओमप्रकाश के सगे भाई राजकुमार यादव बलरामपुर जनपद में इंस्पेक्टर हैं। इस हाईप्रोफाइल हत्याकांड के बारे में सूचना मिलने के बाद गोरखपुर सांसद योगी आदित्यनाथ समेत पुलिस के कई आला अफसर भी मौके पर पहुंच गये। पुलिस ने मृतक की पत्नी अर्चना को मीडिया से बात करने से रोक दिया और उसे एक अलग कमरे में बंद कर दिया। बताया जा रहा है कि नेत्र परीक्षक ओमप्रकाश राधिका काम्प्लेक्स में बैठते थे। अर्चना उनकी दूसरी बीवी है। बताया जा रहा है कि दोनों के बीत अच्छे संबंध नहीं थे।

घर में चल रहा था निर्माण कार्य

 

जांच पड़ताल में जानकारी मिली कि अर्चना अलग कमरे में सोई थीं। ओमप्रकाश और नितिन एक साथ दुसरे कमरे में सो रहे थे। घर में बीते दिनों से कुछ निर्माण कार्य चल रहा था जिसके चलते सुबह नौ बजे लेबर आ गए। लेबर आने के बाद जब ओमप्रकाश को जगाने परिवार के लोग उनके कमरे में पहुंचे तो पिता- पुत्र की लाश पड़ी थी। पत्नी अर्चना का कहना है कि उन्हें कुछ भी पता नहीं ही नहीं चला कि किस समय घटना को अंजाम दिया गया।

कातिल दरवाजे को तोड़कर घुसे

 

देखने में ऐसा लग रहा है कि डबल मर्डर करने वाले कातिल दरवाजे की कुंडी तोड़कर घर में दाखिल हुये। कुंडी टूटकर जमीन पर गिरी थी। बच्चे के गले पर भी निशान हैं जिससे लग रहा है कि उसका गला भी दबाया गया। हालांकि दोनों पर हथौड़े से हमला किया गया है। पुलिस को हथौड़ा मौके पर मिल गया है। पुलिस का कहना है कि घटना की पूरी कहानी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही सामने आ पाएगी।

बीते दिनों हुआ था रेलवे डिप्टी चीफ इंजीनियर और पत्नी का मर्डर

 

कुछ दिनों पहले ही विन्ध्यवासिनी नगर इलाके में बदमाशों ने डबल मर्डर की घटना को अंजाम दिया था। इस डबल मर्डर में मृतक पति पूर्वोत्तर रेलवे में इंजीनियर थे जबकि पत्नी एक निजी स्कूल की प्रधानाचार्य थी । दंपति की लाश सुबह घर में पड़ी मिली थी। उनके गले और सिर में चोट के निशान थे। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि यह डबल मर्डर लूटपाट की नीयत से किया गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button