श्यामा प्रसाद मुखर्जी, एक राजनेता जिसने आजाद भारत की नींव रखने में अहम भूमिका निभाई

0

लखनऊ। भारतीय जन संघ के संस्थापक अमर शहीद डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयन्ती गुरुवार को धूम धाम से मनाई गई। इस मौके पर भारतीय जनता पार्टी, लखनऊ महानगर ने पार्क रोड स्थित डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी चिकित्सालय में पुष्पांजलि का कार्यक्रम आयोजित किया।

डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी

डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर आयोजित हुआ पुष्पांजलि कार्यक्रम

इस मौके पर उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक सहित प्रदेश के तमाम कार्यकर्ता मौजूद थे और सभी ने  आदमकद प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित किया। मुख्य अतिथि बनकर आये राज्यपाल राम नाईक ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि अमर शहीद डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती है।

उन्होंने कहा कि हम सबको उनके बताये हुये मार्ग को अपनाना चाहिए। एक देश में दो प्रधान दो विधान दो निशान नही चलने देने का नारा देकर उन्होंने कश्मीर समस्या से समाधान के लिये निरन्तर संघर्ष किया। इस मौके पर उपस्थित महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा ने कहा कि डा. मुखर्जी छोटी सी उम्र में भारतीय राजनैतिक बुलन्दियों को छुआ वह महान शिक्षाविद् व चिन्तक थे उन्होंने कश्मीर की समस्या के हल के लिये अपने प्राणों की आहूती दी हम सब उन्हें शत शत नमन करते हैं।

वहीँ कार्यकर्ताओं ने ‘जहां हुये बलिदान मुखर्जी वह कश्मीर हमारा है जो कश्मीर हमारा है वह सारे का सारा है’ के नारे भी लगाये। आपको बता दें कि डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का जन्म 6 जुलाई 1901 में हुआ था। प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के मंत्रिमंडल में अहम पद पर रहे । श्यामा प्रसाद मुखर्जी, यानी एक विचारक, एक शिक्षाविद, एक राजनेता जिसने आजाद भारत की नींव रखने में अहम भूमिका निभाई।

loading...
शेयर करें