‘डीजलगेट’ धोखाधड़ी मामले में फॉक्सवैगन के पूर्व सीईओ पर लगा आरोप

वाशिंगटन: अमेरिका सरकार ने गुरुवार को फॉक्सवैगन के पूर्व कार्यकारी मार्टिन विंटकोर्न के खिलाफ उत्सर्जन घोटाले या ‘डीजलगेट’ मामले में आरोप-पत्र दाखिल किए हैं. इस मामले के 2015 में सामने आने के बाद विंटरकोर्न ने पद से इस्तीफा दे दिया था. समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, “मिशिगन की एक संघीय अदालत में अमेरिकी न्याय विभाग ने गुरुवार को विंटरकोर्न(70) पर वीडब्ल्यू की लंबी परियोजना के दौरान अमेरिकी डीजल वाहन उत्सर्जन के नियम के साथ धोखाधड़ी करने के संबंध में आरोप दायर किए.”

'डीजलगेट
मिशिगन पूर्वी जिले के अटॉर्नी मैथ्यू जे. श्नाइडर के एक बयान के अनुसार, “जर्मन कंपनी फॉक्सवैगन के शीर्ष स्तर के कार्यकारी विंटरकोर्न पर ‘अमेरिकी नियामकों को धोखा देने और वर्षो तक अमेरिकी उपभोक्ताओं के साथ ढकोसला करने’ के आरोप तय किए गए.”
साजिश रचने और वायर धोखाधड़ी के अलावा, विंटरकोर्न पर स्वच्छ वायु अधिनियम के प्रावधानों का उल्लंघन करने का भी आरोप लगाया गया. इस अधिनियम का उद्देश्य वायु प्रदूषण को रोकना है.
न्याय विभाग के अनुसार, विंटरकोर्न ने कम से कम नवंबर 2015 से मई 2016 तक स्वच्छ वायु अधिनियम का उल्लंघन किया, इसी दौरान कंपनी ने अपने वाहनों में परीक्षण की पहचान करने वाले (टेस्ट रिकगनिशन) सॉफ्टवेयर लगाए, ताकि वे उत्सर्जन परीक्षण का पता लगा सकें और इससे बच सकें.

Related Articles