2019 वर्ल्ड क्रॉस कंट्री चैम्पियनशिप की मेजबानी में इस देश ने मारी बाजी

0

मोंटे कार्लो। अंतर्राष्ट्रीय एथलेटिक्स महासंघ (आईएएएफ) परिषद की 207वीं बैठक में 2019 वर्ल्ड क्रॉस कंट्री चैम्पियनशिप की मेजबानी डेनमार्क को सौंपी गई है। इस टूर्नामेंट का आयोजन डेनमार्क के दूसरे सबसे बड़े शहर आरहूस में होगा।

डेनमार्क

डेनमार्क करेगा  2019 वर्ल्ड क्रॉस कंट्री चैम्पियनशिप की मेजबानी

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, इस टूर्नामेंट के आयोजन के लिए आरहूस एकमात्र उम्मीदवार रह गया था, क्योंकि इस रेस में शामिल ट्यूनीशिया का हम्मामेत शहर तय समय सीमा (15 अक्टूबर) तक आधिकारिक दावेदारी पेश नहीं कर पाया था। दावेदारी की प्रक्रिया इस साल मार्च से शुरू कर दी गई थी।

इस टूर्नामेंट के आयोजन के साथ-साथ आरहूस ने 2,000 स्कूली बच्चों की रेस और एक बड़े पैमाने पर होने वाली दौड़ का भी समर्थन किया है, जिसमें 8,000 धावकों के हिस्सा लेने की उम्मीद है।

आईएएएफ के अध्यक्ष सेबेस्टियन कोए ने कहा कि मैं इस बात से खुश हूं कि डेनमार्क को एक बार फिर आईएएएफ वर्ल्ड एथलेटिक्स सीरीज इवेंट के आयोजन का मौका मिला है।

कोए ने कहा कि 2014 में डेनमार्क ने कोपनहेगन में वर्ल्ड हॉफ मैराथन का सफल आयोजन किया था और मुझे 2019 में भी अराहूस में इसी प्रकार के आयोजन की उम्मीद है।

डेनमार्क के अधिकारियों को उनके देश में आयोजित होने वाले इस टूर्नामेंट के आयोजन की सफलता की पूरी उम्मीद है। डेनमार्क संघ के निदेशक जेकब लार्सेन ने कहा कि हम इस मेजबानी के लिए आईएएएफ की ओर से एक बार फिर जताए गए भरोसे के आभारी हैं।

loading...
शेयर करें