प्रॉपर्टी विवाद में की गई तंजील अहमद की हत्या, रिश्तेदार गिरफ्तार

0

नई दिल्ली एनआईए अधिकारी तंजील अहमद की हत्या की गुत्थी सुलझती नजर आ रही है। तनजील की हत्या प्रॉपर्टी विवाद में की गई थी। इस मामले में पुलिस ने एक रिश्तेदार को गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि रेहान नाम के इस शख्स के खिलाफ सबूत मिले हैं। जांच एजेंसियों ने बुधवार को एएमयू के पूर्व छात्र समेत दो शूटरों को हिरासत में लिया है। सूत्रों के मुताबिक, पूछताछ में दोनों ने अपना अपराध कबूला है। एक दुकान का विवाद इस रंजिश के पीछे बताया जा रहा है।

तंजील अहमद

तंजील अहमद मर्डर से पहले भांजी की शादी में शरीक हुए थे

तंजील की हत्या का राज एक पिस्टल से खुला है। बिजनौर में डकैती के एक मामले में इस्तेमाल पिस्टल से ही तंजील को गोली मारी गई थी। डकैती की उस वारदात में शूटर मुनीर आरोपी था। इसी सुराग से पुलिस पहुंची आरोपियों तक। तंजील अहमद मर्डर से पहले अपनी भांजी की शादी में शरीक हुए थे। बताया जा रहा है कि हमलावरों ने पहले रेकी की थी। आशंका है कि हत्यारे भी शादी में शरीक हुए हों। परिजनों का कहना है कि शादी में दो लोग ऐसे थे, जिन्‍हें वे नहीं पहचानते। सूत्रों के मुताबिक, हिरासत में लिया गया मुनीर बिजनौर का हिस्ट्रीशीटर है। वह एएमयू का पूर्व छात्र है। हिरासत में लिया गया दूसरा व्यक्ति मुनीर का साथी रिजवान है। जांच से जुड़े एक अधिकारी का दावा है कि मुनीर ने हत्या किया जाना कबूल किया है। तंजील के गांव के ही एक शख्स ने मुनीर को पैसे देकर यह हत्या करवाई थी।

कैसे हुआ था हमला

तंजील शनिवार की रात बिजनौर में शादी से लौट रहे थे। तभी मोटर साइकिल सवार बदमाशों ने उन पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। 24 राउंड गोलियां चलाई गई और 9 गोलियां उनके जिस्म को पार करके बाहर निकल गई। इस फायरिंग में तंजील की मौक-ए-वारदात पर ही मौत हो गई। जबकि, उनकी पत्नी को भी गोली लगी थी। इस दौरान उनके दोनों बच्चे भी कार में मौजूद थे।

loading...
शेयर करें