पलानीस्वामी बने तमिलनाडु के नए सीएम, 15 दिन में साबित करेंगे बहुमत

0

चेन्‍नई। पलानीस्‍पामी ने तमिलनाडु के नए सीएम के रूप में शपथ ले ली है। तमिलनाडु के गवर्नर विद्यासागर राव ने उनके साथ 30 अन्य मंत्रियों को भी पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।

तमिलनाडु के नए सीएम

तमिलनाडु के नए सीएम को मिला 15 दिन का समय

इससे पहले गुरुवार को पलानीस्वामी का सीएम पद के लिए नाम तय होने पर उन्होंने राज्यपाल से मुलाकात की। उन्होंने 120 विधायकों के समर्थन की बात राज्यपाल को बताई। AIADMK की महासचिव शशिकला के जेल जाने और पनीरसेल्वम के इस्तीफे के बाद तमिलनाडु में सियासी संकट चल रहा था। वहीं सीएम बनने के बाद गवर्नर ने उन्‍हें 15 दिन में बहुमत साबित करने का समय दिया है।

क्यों सीएम बनेंगे पलानीस्वामी ?

आय से अधिक संपत्ति के मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा शशिकला को सजा सुनाए जाने के बाद उनके खेमे ने पलानीस्वामी को विधायक दल का नेता चुना था।

शपथ ग्रहण कार्यक्रम पर डालें एक नजर

– पलानीस्वामी को 15 दिनों के भीतर साबित करना होगा बहुमत।

– पलानीस्वामी के साथ मंत्री जयकुमार समेत चार अन्य बड़े नेता ने भी ली शपथ।

अभी रिजॉर्ट में हैं विधायक

इतना ही नहीं गवर्नर से मिलने के बाद पलानीस्वामी मीडिया को भी संबोधित कर सकते हैं। इस दौरान शशिकला खेमे के सभी विधायक कुवाथुर रिजॉर्ट में ही रहेंगे।

राज्यपाल ने मांगी थी लिस्ट

इससे पहले बुधवार को राज्यपाल विद्यासागर राव ने पलानीस्वामी और पन्नीरसेल्वम दोनों से अपने-अपने समर्थक विधायकों की लिस्ट लाने को कहा था। शपथ लेने के बाद पलानीस्वामी को विधानसभा में बहुमत साबित करना होगा। उधर कार्यवाहक मुख्यमंत्री पन्नीरसेल्वम को भी राज्यपाल ने एक मौका देते हुए उनसे उनके समर्थक विधायकों की लिस्ट मांगी है।

पन्‍नीरसेल्‍वम हुए बागी

पन्नीरसेल्वम पहले शशिकला को मुख्यमंत्री बनाने के लिए अपने पद से इस्तीफा दे चुके हैं। हालांकि बाद में बागी तेवर अपनाते हुए उन्होंने कहा कि उनसे इस्तीफा दबाव में लिया गया था और वे मुख्यमंत्री बने रहने के लिए तैयार हैं। पन्नीरसेल्वम के इस बागी रुख के बाद पार्टी महासचिव शशिकला ने जेल जाने से पहले उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

loading...
शेयर करें