पति नोट नहीं गिन सका तो पत्नी ने दे दिया तलाक

0

रायबरेली। बछरावां स्थित ठकुराइनखेड़ा में दो गांव के लोगों ने पंचायत लगाकर पति-पत्नी के बीच रिश्ता तुड़वाने का मामला सामने आया है। यहां एर पत्नी ने अपने पति को केवल इसलिए तलाक दे दिया क्योंकि उसे नोटों की गिनती करना नहीं आता था। उस पर लड़की पक्ष के लोगों ने अंगूठाछाप होने का आरोप लगाया है। इसी आरोप को बल देकर दोनों के बीच तलाक करवा दिया गया। इसी दौरान दहेज लौटाने के बाद सादे कागज पर तलाकनामा लिख दिया।

divorce_0

ये है पूरा मामला

ठकुराइनखेड़ा निवासी किसान रामस्वरूप ने बेटी जयदेवी का विवाह छह महीने पहले पूर्व मोहनलालगंज में पदमिनखेड़ा निवासी राम विलास के बेटे देशराज के साथ हुआ था। बीती सुबह से ही निगोहां थाने के सामने दोनों पक्ष से दर्जनों लोग इकट्टा हुए और लड़की की विदाई की बात चलने लगी। इस पर विवाहिता ने पति के साथ जाने से इनकार कर दिया। मायके वाले भी बेटी का समर्थन करने लगे। जब पंचायत ने पति के साथ न जाने की वजह पूछी तो विवाहिता ने कहा कि पति को नोट गिनने तक नहीं आते, वह अंगूठाछाप है..इसलिए मैं इसके साथ नहीं जाउंगी। जिसके बाद दोनों पक्षों की तरफ से तीन घंटे तक मामले में बहस चलती रही। इस दौरान तमाशबीनों की भीड़ जुटी रही, लेकिन मामले मे किसी ने हस्तक्षेपनहीं किया। आखिरकार दोनों पक्षों से आए पंचायत के लोगों ने एक सादे कागज पर तलाक का फरमान सुनाकर पति-पत्नी को अलग करा दिया।

ससुर ने ही करा दिया बहु का तलाक

माल के एक गांव में ससुर ने अपनी बहू से अश्लील हरकत शुरू कर दी। वह लगातार करीबी संबंध बनाने को कह रहा था। हालांकि पति इस बातों से किनारा किए रहा, उसने पिता का विरोध नहीं किया। घटना से महिला सदमे में आ गई। जब पीड़िता ने घटना की जानकारी अपने परिजनों को बताई तो परिजन थाने पहुंचे लेकिन थाने से भी उन्हें टरका दिया गया। इसके बाद पूरा मामला पंचायत के सामने रखा गया। पंचायत ने दोनों का तलाक करा दिया।

loading...
शेयर करें