तालाब में मिले दुर्लभ प्रजाति के मेढक देखकर दंग रह गए लोग

0

मध्य प्रदेश से एक हैरान कर देने वाला वीडियाे सामने आया है. एमपी के नरसिंहपुर जिले के एक तालाब में दुर्लभ प्रजाति के सैकड़ों मेढक निकल रहे हैं. यह पीले रंग के मेढक हैं जिन्हें देखकर किसान अपने-अपने हिसाब से अनुमान लगा रहे हैं.

मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले के आमगांव बड़ा में बरसात होते ही बड़ी संख्या में दुर्लभ प्रजाति के पीले रंग के मेढक देखे गए. इतनी भारी तादाद में गहरे पीले रंग के मेढक देखकर आम लोगों में इनके ज़हरीले होने की आशंका हुई और लोग इनसे डरकर दूर भागने लगे. इन्हें मारने का प्रयास भी किया जाने लगा.

लोग इन दुर्लभ मेढकों को देखकर आश्चर्य में थे और इनके ज़हरीले होने की आशंका के चलते डरे हुए भी थे जिसके चलते लोगों द्वारा इन्हें नुक़सान पहुंचाने का प्रयास किया गया.

जानकारी के अभाव में लोग इस दुर्लभ प्रजाति के मेढक को जहरीला समझते हैं जबकि पर्यावरणविद् की मानें तो मेढकों की यह दुर्लभ प्रजाति भारत में पाया जाने वाला इंडियन बुल फ्रॉग है जो प्रजनन काल में अपना रंग बदल कर गहरा पीला कर लेता हैं. इस वजह से लोग इसे जहरीला समझते हैं जबकि यह मेढक क़तई ज़हरीले नहीं होते हैं.

पर्यावरणविद आलोक तिवारी ने बताया कि दुर्लभ प्रजाति का यह इंडियन बुल फ्रॉग किसानों के लिए भी लाभदायक है और ईको फ़्रेंडली भी है. हमें इससे डरने की आवश्यकता नहीं है बल्कि इस प्रजाति को सहेजने की ज़रूरत है.

आलोक तिवारी ने इस बारे में और जानकारी देते हुए कहा कि जानकारी के अभाव और अज्ञानता के चलते लोग प्रकृति के ऐसे दोस्तों को नुक़सान पहुंचाने लगते हैं जो प्रकृति के लिए और हमारे लिए लाभदायक हैं. हमें ज़रूरत है कि बुल फ्रॉग जैसे दुर्लभ जीवों से डरें नहीं बल्कि इनका प्रकृति के लिए लाभ और जानकारी लोगों तक पहुंचाएं.

loading...
शेयर करें