IPL
IPL

तीन बहनों का अपहरण करने वाले एसटीएफ के हत्‍थे चढ़े

लखीमपुर-खीरी। 16 जनवरी की रात को एक परिवार की तीन बहनों के हुए अपहरण में पुलिस और एसटीएफ को सफलता मिल गई है। तीन बहनों का अपहरण करने वाले एसटीएफ के हत्‍थे चढ़े। पुलिस और एसटीएफ ने मिलकर अपहरणकर्ताओं को पकड़ लिया है।

तीन बहनों का अपहरण

तीन बहनों का अपहरण मामले में लोकल गिरोह

लखीमपुर के खैरीगढ़ में तीन बहनों का अपहरण करने वाले पुलिस और एसटीएफ के हत्‍थे चढ़ गए। इस मामले में पुलिस ने मुख्य साजिशकर्ता समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने अपहरणकर्ताओं के पास से दो लाख 63 हजार रुपए भी बरामद किए हैं। पुलिस ने दावा किया है कि कि वारदात को लोकल गिरोह ने ही अंजाम दिया था। गैंग के सात अन्य बदमाश फरार हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।

पांच लाख की मांगी गई थी फिरौती
सिंगाही के खैरीगढ़ गांव से व्यापारी रामबली गुप्ता की तीनों बेटियों के अपहरण और पांच लाख रुपए की फिरौती के मामले में पुलिस और एसटीएफ ने कई खुलासों के दावे किए। एसपी खीरी अखिलेश चौरसिया और एसएसपी एसटीएफ अमित पाठक ने बताया कि वारदात का मुख्य साजिशकर्ता तिकुनिया के गांव रायपुर निवासी राजकुमार था, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

बदमाशों के खबरी को भी दबोचा
पुलिस ने बदमाशों के खबरी गुरमीत सिंह निवासी बगौड़िया थाना सिंगाही और कुलवंत सिंह को भी दबोचा है। एसपी ने बताया कि फिरौती में दी गई पांच लाख की रकम में राजकुमार के पास से एक लाख 47 हजार, गुरमीत के पास से एक लाख दस हजार और कुलवंत के पास से छह हजार रुपए बरामद हुए हैं। डीजीपी ने टीम को 20 हजार रुपए का इनाम घोषित किया है।

ढाई घंटे तक चला छापेमारी अभियान
तीन बहनों के अपहरण के मामले में बदमाशों की तलाश में जुटी एसटीएफ, पुलिस व एसएसबी ने संयुक्त अभियान चलाया। एक सूचना के आधार पर टीम ने चंदनचौकी कोतवाली के एक गांव में एक घर पर छापेमारी की। इसके बाद वहां से भागे लोगों को पास के गन्ने के एक खेत में ढाई घंटे तक घेराबंदी करके सर्च आपरेशन चलाया गया। इस दौरान फायरिंग भी हुई।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button