IPL
IPL

थानेदार छुट्टी पर…मुंशी ने बेंच डाले जब्त वाहन

कानपुर। गलत कमाई पुलिस का धंधा बनता जा रहा है। चाहे उसके लिए नौकरी ही क्यों न दांव पर लग जाये। ऐसा ही एक वाकया शहर के नौबस्ता थाने में देखने को मिला। थाने के हेड मुहर्रिर ने थानेदार की गैर मौजूदगी में थाने में खड़े जब्त वाहन ही बेंच डाले। जब मामला थानेदार की जानकारी में आया तो उन्होंने हेड मुहर्रिर को फटकार लगा बेंचे वाहन वापस मंगवाए।

 जब्त वाहन

उठाया छुट्टी का फायदा

 

नौबस्ता थानेदार राजदेव प्रजापति दो दिन की छूट्टी पर गए थे। उनकी जगह यशोदानगर चौकी इंचार्ज दिनेश कुमार कार्यवाहक थानेदार थे। उन्होंने देखा कि एक लोडर थाने में खड़ा है और उसमें वर्षों से खड़े जब्त वाहन और सामान लोड किया जा रहा है। उन्होंने लोडर चालक को बुलाकर जानकारी की तो उसने बताया कि थाने के मुंशी से उसने यह सामान ख़रीदा है। इसे वह कबाड़ी को बेंचने जा रहा है।

तुम क्या कर लोगे मेरा

 

दिनेश कुमार ने हेड मुहर्रिर को बुलाकर पूछताछ की तो वह उनसे भिड़ गया। साथ ही धमकी दी कि तुम क्या कर लोगे। इस पर कार्यवाहक एसओ ने पूरी जानकारी थानेदार राजदेव प्रजापति को दी। तब जब थानेदार राजदेव प्रजापति ने हेड मुहर्रिर की क्लास लगाई तब सामान वापस मंगवाया गया। सीओ गोविंदनगर ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है, जाँच कराकर कार्यवाही की जायेगी।

आए दिन थानेदार और दरोगा दिखा रहे असली रूप

 

हाल ही में विवेचना के बहाने महिला को व्हाट्सअप पर अश्लील मैसेज भेजना एक दरोगा को महंगा पड़ गया। पुलिस की गरिमा को ताक पर रखने वाले इस दरोगा को शिकायत पर लाइन हाजिर कर दिया गया है। साथ ही मामले की जाँच सीओ स्वरुप नगर को सौंपी गई है। जाँच पर दोषी पाये जाने पर उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्यवाही भी की जायेगी।

गोविंदनगर निवासी एक महिला ने अपने पति के खिलाफ काकादेव थाने में दहेज उत्पीड़न की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। मामले की विवेचना एसआई रामदयाल कर रहे थे। महिला का आरोप है कि दरोगा आए दिन उसे थाने बुलाता और घण्टों बिठाये रखता था। इसके साथ ही व्हाट्सअप पर अश्लील मैसेज व अश्लील कमेंट भेजता रहता था।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button