इस लिस्ट में टॉप पर है अमित शाह और आजम खां

0

नई दिल्‍ली। अगले साल उत्‍तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव को देखते हुए यूपी पुलिस ने उन लोगों की एक लिस्ट बनाई है जो लोग दंगा फसाद कर सकते हैं। दंगा फसाद लिस्‍ट में अमित शाह और आजम खां शामिल करने पर बवाल मचना तय हैं।

आजम खांअमित शाह

शामली पुलिस ने जोड़े दंगा फसाद लिस्‍ट में अमित शाह और आजम खां के नाम

खबर मिली है कि यूपी की शामली पुलिस ने दंगा फसाद लिस्ट में अमित शाह और आजम खान के नाम जोड़े है। हैरानी की बात यह है कि चुनाव आयोग के आदेश के बाद यह लिस्‍ट बनाई गई है।

चुनाव आयोग का था आदेश

चुनाव आयोग ने पुलिस से कहा था कि उन लोगों की लिस्ट बनाए जिनके खिलाफ 2012 में हुए यूपी विधानसभा चुनाव, 2014 में हुए लोकसभा चुनाव और 2015 में अन्य राज्यों में हुए चुनाव के दौरान दंगा-फसाद फैलाने या ऐसा माहौल बनाने के आरोप में मुकदमे चल रहे हैं।

दंगा फसाद लिस्ट में कुल 46 नाम  

अमित शाह और आजम खान के अलावा जिन बड़े नेताओं के नाम पुलिस की लिस्ट में शामिल हैं, वे हैं- कैराना से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन, इसी इलाके से कांग्रेस के पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक, एमएलसी वीरेंद्र सिंह और राष्ट्रीय लोक दल के करतार सिंह भडाना। लिस्ट में कुल 46 नाम हैं।

अंग्रेजी अखबार ने किया दंगा फसाद लिस्‍ट में अमित शाह और आजम खां के नाम शामिल होनेे का खुलासा

एक अंग्रेजी अखबार की खबर के मुताबिक नाम न छापने की शर्त पर एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव आयोग किसी तरह की कोताही नहीं बरतना चाहता है, इसलिए ऐसे नेताओं को चिन्हित किया जा रहा है जो चुनावी रैलियों में भड़काऊ भाषण देने के लिए जाने जाते हैं। पुलिस ने तैयार की गई लिस्ट चुनाव आयोग को भेज भी दी है।

अब भड़काऊ भाषण देने वाले नेताओं की खैर नहीं

2014के लोकसभा चुनावों के दौरान अमित शाह के खिलाफ जन प्रतिनिधित्व अधिनियम के सेक्शन 125 के तहत (वर्गों के बीच दुश्मनी फैलाना) मामला दर्ज किया गया था। इस मामले में दोषी पाए जाने पर तीन साल तक की कैद हो सकती है, या कैद और जुर्माना दोनों हो सकता है।

आजम खां के खिलाफ दर्ज हो चुका है मुकदमा

उसी दौरान आजम खान के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 153ए (धर्म, जाति, जन्म, निवास, भाषा के स्थान के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच शत्रुता को बढ़ावा देना), 295ए ( जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण कृत्य, धर्म का अपमान करने और धार्मिक भावनाओं में आक्रोश भरने का इरादा) और 505 (सार्वजनिक तौर पर विवादित बयान देना) के तहत मामला दर्ज किया गया था।

सपा नेता भी है लिस्ट में

समाजवादी पार्टी के नेता नाहिद के खिलाफ भी 2014 चुनावों के दौरान कई मामले दर्ज किए गए थे। दो मामलों में पुलिस ने नाहिद के खिलाफ चालान काटे थे, जबकि एक मामले में उनके खिलाफ पुलिस ने चार्जशीट दाखिल की थी। करतार सिंह के खिलाफ भी मामले दर्ज किए गए थे।

loading...
शेयर करें