दक्षिण कोरिया की बर्खास्त राष्ट्रपति पार्क से 21 घंटे हुई पूछताछ

0

सियोल। भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहीं दक्षिण कोरिया की पूर्व राष्ट्रपति पार्क ग्युन-हे से अभियोजक कार्यालय में की गई पूछताछ 21 घंटे चली। एफे न्यूज की बुधवार की रिपोर्ट के मुताबिक, जांचकर्ताओं के समक्ष पहली बार पेश हुईं पार्क से 14 घंटे पूछताछ की गई और उसके बाद उनके बयान की समीक्षा में सात घंटे लगे।

पूछताछ के बाद जब वह सियोल जिला अभियोजक कार्यालय से बाहर निकलीं तो वे बेहद थकी हुईं लग रही थीं और उन्होंने वहां एकत्रित मीडिया से बात नहीं की। पार्क ने पूछताछ के दौरान रिश्वतखोरी और सत्ता के दुरुपयोग समेत सभी आरोपों से इनकार किया, लेकिन अभी उनके बयान का विस्तृत विवरण नहीं दिया गया है।

अभियोजक कार्यालय और उनके घर के बाहर उनके प्रशंसकों की भारी भीड़ जमा थी। संवैधानिक अदालत ने 10 मार्च को भ्रष्टाचार के एक मामले में संसद में उनके खिलाफ पारित महाभियोग प्रस्ताव को मंजूरी दे दी थी, जिसके केंद्र में उनकी पुरानी मित्र चोई सून सिल थीं।

एलजी, हुंडई और सैमसंग सहित 53 नामी गिरामी कंपनियों से जुड़े इस मामले में अब तक 30 लोगों पर आरोप लग चुके हैं। सैमसंग के अध्यक्ष ली जेई-योंग पर इस मामले में कथित तौर पर चोई द्वारा गठित और नियंत्रित संस्थाओं को रिश्वत देने के आरोप में मुकदमा चल रहा है।

loading...
शेयर करें