हैदराबाद यूनिवर्सिटी में दलित छात्र ने की खुदकुशी

0

नई दिल्ली। हैदराबाद यूनिविर्सिटी से दो सप्ताह पहले निकाले गए पांच दलित छात्रों में से एक रोहित वेमुला ने खुदकुशी कर ली है। हॉस्टल में उसका शव पंखे से लटका मिला है। वह यूनिविर्सिटी से निकाले जाने पर काफी दिनों से खुले आसमान के नीचे सो रहा था। दलित छात्र की खुदकुशी मामले पर हैदराबाद यूनिवर्सिटी प्रशासन पर उंगली उठने लगी है।

हैदराबाद यूनिवर्सिटी में दलित छात्र ने की खुदकुशी

दलित छात्र की खुदकुशी पर भड़का गुस्सा

अंबेडकर स्टूडेंट्स एसोसिएशन से जुड़े इन दलित छात्रों को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के एक नेता पर हमले के मामले में हैदराबाद यूनिवर्सिटी ने छात्रावास से निष्कासित कर दिया गया था। इसके अलावा विश्वविद्यालय के हॉस्टपल, मैस, प्रशासनिक भवन और कॉमन एरिया में भी इनके घुसने पर रोक लगा दी गई थी। दलित छात्रों के इस ‘बहिष्कार’ के खिलाफ कई छात्र संगठन विरोध-प्रदर्शन कर रहे थे और इस मुद्दे पर विश्वविद्यालय में काफी दिनों से विवाद चल रहा था। दलित छात्र की खुदकुशी पर पूरी यूनिवर्सिटी में छात्रों का गुस्सा भड़का है।

सुसाइड नोट हुआ बरामद
एक तरफ जहां दलित छात्रों के समर्थन में कई छात्र संगठनों का धरना चल रहा था, रोहित चुपके से यूनिवर्सिटी के एनआरएस हॉस्टल गया और खुद को एक कमरे में बंद कर खुदकुशी कर ली। बताया जाता है कि इससे पहले रोहित की विरोधी गुट के छात्रों के साथ तीखी बहस हुई थी। पुलिस के मुताबिक, रोहित के पास से पांच पन्नों का एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है। बताया जाता है कि दलित छात्र की खुदकुशी से उसका परिवार सकते में है।

यूनिवि‍र्सटी प्रशासन जिम्मेदार
रोहित की खुदकुशी के लिए अंबेडकर स्टूडेंट्स एसोसिएशन ने विश्व विद्यालय प्रशासन के रवैये को जिम्मेदार ठहराया है। इस बीच, कैंपस में तनावपूर्ण माहौल को देखते हुए सुरक्षा बढ़ा दी गई। रोहित की खुदकुशी से आक्रोशित कई छात्र संगठनों ने उसके शव को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया और भाजपा नेता व केंद्रीय मंत्री बंगारू दत्तादत्रेय के खिलाफ एससी-एसटी उत्पीड़न का मामला दर्ज करने की मांग की। अंबेडकर स्टूडेंट्स एसोसिएशन का आरोप है कि बंगारू दत्तांत्रेय ने ही इन दलित शोधार्थियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय को पत्र लिखा था। दलित छात्र की मौत पर यूनिवर्सिटी ने अभी तक कोई बयान नहीं दिया है।

छात्र संगठनों का बंद का आह्वान
दलित छात्र की खुदकुशी के खिलाफ एसएफआई, डीएसयू, एआईएसएफ समेत कई छात्र संगठनों ने राज्यईव्यायपी बंद का आह्वान किया है। इस मामले में केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता का नाम आने से दलित छात्र की ख़ुदकुशी का मुद्दा और ज्यादा गरमा सकता है।

loading...
शेयर करें