दिग्विजय सिंह ने पीएम मोदी और सर्जिकल स्ट्राइक पर दिया ऐसा बयान, देश कभी माफ़ नही करेगा

0

नई दिल्ली| आतंकियों के खिलाफ किये गए सर्जिकल स्ट्राइक के बाद जहां देश में मोदी सरकार और सेना की तारीफ हो रही है। वहीं कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को युद्ध भड़काने वाला व्यक्ति करार दिया। उन्होंने सत्ताधारी भाजपा पर सेना के सर्जिकल स्ट्राइक पर अपनी पीठ थपथपाने का आरोप लगाया।

ये भी पढ़ें : ‘आप’ को टक्कर देने मैदान में उतरे योगेन्द्र और प्रशांत, ‘स्वराज इंडिया’ नाम से बनाई नई पार्टी

दिग्विजय सिंह
दिग्विजय सिंह ने सेना के सर्जिकल स्ट्राइक पर अपनी प्रतिक्रिया दी

दिग्विजय इस तरह के स्ट्राइक पहले भी किए गए हैं। अंतर सिर्फ पीठ थपथपाने की इस हरकत और मीडिया में बयानबाजी का है। पहले ऐसा कभी नहीं हुआ, क्योंकि पहले के प्रधानमंत्री ने सोचा कि बेहतर है कि इन मुद्दों को सुरक्षा बलों के ऊपर छोड़ दिया जाए।

कांग्रेस नेता ने कहा कि आज (भाजपा अध्यक्ष) अमित शाह और पार्टी के नीचे के लोग अपनी पीठ थपथपा रहे हैं। मोदी और (राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार) अजित डोभाल युद्ध भड़काने वाले लोग हैं। दिग्विजय की टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब उन्होंने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बयान पर प्रतिक्रिया दी। शिवराज ने सर्जिकल स्ट्राइक के लिए प्रधानमंत्री की प्रशंसा करते हुए कहा कि मोदी का 56 इंच का सीना अब फूलकर 100 इंच का हो गया है।

ये भी पढ़ें : दिल्ली में नकली सिक्के बनाने वाली फैक्ट्री का पर्दाफाश, मुख्य दो आरोपी फरार

दिग्विजय सिंह ने भोपाल में रविवार को एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि मोदी का सीना अब 56 इंच का नहीं, बल्कि 100 इंच का हो गया है। सर्जिकल स्ट्राइक भारतीय सेना के विशेष बलों ने 28-29 सितंबर की रात की थी गौरतलब है कि उरी में सेना पर हुए आतंकी हमले के बाद पूरा देश गुस्से में उबल रहा था। सभी आतंकियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे थे। इस आतंकी हमले के ठीक दस दिन बाद सेना ने पाक अधिकृत कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक कर करीब 50 आतंकियों को मौत के घाट उतारकर 19 जवानों की शाहदत का बदला ले लिया।

इस ऑपरेशन के बाद सेना और मोदी सरकार की काफी तारीफ हुई। सभी राजनीतिक पार्टियों ने पीएम मोदी के इस कदम की प्रशंसा की, वहीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी पीएम मोदी के इस कदम को उचित ठहराया। लेकिन अब दिग्विजय सिंह इस मुद्दे पर अपना बयाना देकर इसे राजनैतिक रंग देने की कोशिश कर रहें हैं।

 

loading...
शेयर करें