हीरोइन का अपहरण, हीरो पर आरोप, ये है सच्चाई

0

कोच्ची। मलयालम सुपरस्टार दिलीप ने सोमवार को आरोप लगाया कि कुछ टीवी चैनल और ऑनलाइन साइट इस साल की शुरुआत में अगवा हुईं मलयालम अभिनेत्री के अपहरण में उनका हाथ बताकर उनकी छवि को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं। अभिनेता ने कहा कि वह खुद को निर्दोष साबित करने के लिए ब्रेन मैपिंग और नार्को टेस्ट तक कराने के लिए तैयार हैं। तमिलनाडु के तेनजी जिले में शूटिंग कर रहे दिलीप ने अपने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा कि फरवरी में अगवा हुई मशहूर अभिनेत्री के अपहरण में उनकी किसी तरह की संलिप्तता नहीं है।

यहां भी पढ़ें : बेटी सारा को लेकर एक बार फिर पापा सैफ ने दिया ऐसा बयान- भड़क गयी Ex-wife

दिलीप

दिलीप ने कहा- यह ऐसे समय में हो रहा है जब मेरी फिल्म रिलीज होने वाली है

दिलीप ने पोस्ट में लिखा, “मैं यह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि मैं किसी मामले में किसी तरह से शामिल नहीं हूं। लंबे समय से सोशल मीडिया के एक धड़े, कुछ ऑनलाइन साइट्स और कुछ टीवी चैनलों ने मेरे खिलाफ साजिश कर रखी है और मेरी छवि को नुकसान पहुंचाने पर तुले हैं। यह सब मेरे प्रशंसकों को मुझसे दूर करने के लिए किया जा रहा है।”

उन्होंने लिखा, “यह ऐसे समय में हो रहा है, जब जल्द ही मेरी नई फिल्में रिलीज होने वाली हैं। मैं खुद को निर्दोष साबित करने के लिए ब्रेन मैपिंग, नार्को सहित कोई भी टेस्ट कराने के लिए तैयार हूं।” जब से फरवरी में अभिनेत्री का अपहरण हुआ, कुछ न कुछ अजीब कारणों से दिलीप का नाम इस मामले से जुड़ता रहा है।

पिछले सप्ताह इस मामले में मोड़ तब आया जब मलयालम फिल्मों की मशहूर हस्ती नादिर शाह ने आरोप लगाया कि अपहरण मामले के मुख्य आरोपी पुलसर सुनी के करीबी सहयोगी का उनके पास फोन आया, जिसने इस मामले में दिलीप का नाम लिया।

शाह ने संवाददाताओं को बताया कि मार्च में विष्णु नाम के एक शख्स ने उनके पास फोन किया जिसने उनसे दिलीप को यह बताने के लिए कहा कि अगर अभिनेता ने उसे 1.50 करोड़ रुपये नहीं दिए तो वह पुलिस को यह बताने के लिए मजबूर हो जाएगा कि मशहूर अभिनेत्री के अपहरण की साजिश में उनका (दिलीप) हाथ है।

कोच्चि पुलिस ने रविवार रात विष्णु और उसको सहयोगी को ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। एर्नाकुलम (ग्रामीण) के पुलिस अधीक्षक ए. वी. जॉर्ज ने विष्णु और उसके सहयोगी की गिरफ्तारी की पुष्टि की और कहा कि दोनों को एक मजिस्ट्रेट के पास ले जाया गया है और उनकी न्यायायिक हिरासत की मांग की गई है।

मलयालम की मशहूर अभिनेत्री का 17 फरवरी को त्रिशूर से कोच्चि जाते समय रास्ते में अपहरण कर लिया गया था। बाद में उन्हें निर्देशक से अभिनेता बने लाल के घर के पास फेंककर अपहरणकर्ता फरार हो गए। अभिनेत्री से घटना के बारे में पता चलने पर उन्होंने पुलिस को सूचित किया।

edited by – Deepshikha jaiswal

loading...
शेयर करें