नोटबंदी के बाद लेन-देन के लिए खूब किया जा रहा पेटीएम का यूज

0

नई दिल्ली: केंद्र सरकार द्वारा 500 रुपये और 1000 रुपये के नोट बंद किए जाने के कुछ ही दिनों के भीतर मोबाइल भुगतान और व्यापार प्लेटफार्म पेटीएम ने दिल्ली-एनसीआर में अप्रत्याशित वृद्धि दर्ज की है। पेटीएम भुगतान लेन-देन में 200 प्रतिशत से ज्यादा की वृद्धि हुई है और बड़ी संख्या में व्यापारी अब इससे जुड़ गए हैं।

दिल्ली-एनसीआर

दिल्ली-एनसीआर में लोग जमकर कर रहे पेटीएम का इस्तेमाल 

पेटीएम एप को गूगल प्ले स्टोर या आईट्यून्स से डाउनलोड किया जा सकता है और सेकंडों में इस एप के माध्यम से मोबाइल फोन से भुगतान किया जा सकता है। पेटीएम के ग्राहक अपने आरबीआई (भारतीय रिजर्व बैंक) स्वीकृत पेटीएम वॉलेट से सरलतापूर्वक किसी का क्यूआर कोड स्कैन करके या पेटीएम एप में उनका मोबाइल नंबर प्रविष्ट करके उन्हें भुगतान कर सकते हैं।

पेटीएम की उपमहाप्रबंधक सोनिया धवन ने बताया कि चूंकि दिल्ली-एनसीआर के उपभोक्ताओं के पास नकद खत्म हो गए हैं, इसलिए उन्होंने एटीएम के बाहर घंटों तक लंबी कतारों पर खड़े रहने के स्थान पर पेटीएम का प्रयोग करना शुरू कर दिया है।

उन्होंने बताया कि चाहे चांदनी चौक में किसी खाने के ठेले पर स्वादिष्ट कबाब के मजे उठाने हो, मॉल्स पर खरीददारी करनी हो या फिर किसी किराना की दुकान से सामान लेना हो। पूरी दिल्ली के उपभोक्ता अब पेटीएम के विविध उपयोगों की क्षमता को समझ रहे हैं।

loading...
शेयर करें