दिल्ली पुलिस के एसआई ने लड़की को पार्क में बुलाया और…

दिल्ली पुलिस के एसआईनई दिल्ली। दिल्‍ली के द्वारका इलाके में एक लड़की को दिल्ली पुलिस के एसआई के साथ प्रेम-प्रसंग में पड़ना भारी पड़ गया। रविवार को दिनदहाडे दिल्ली पुलिस के एसआई विजेंद्र ने लड़की को अपनी ही सर्विस रिवॉल्‍वर का निशाना बनाया। उसने लड़की पर एक, दो नहीं बल्कि तीन गोलियां दाग दीं। इससे लड़की की मौके पर ही मौत हो गई।

दिल्ली पुलिस के एसआई ने दिनदहाड़े लड़की को मारी गोली

लड़की को गोली मारने के तुरंत बाद दिल्‍ली पुलिस के एसआई ने खुद को भी गोली मारकर आत्‍महत्‍या करने की कोशिश की। लेकिन उसे तुरंत एम्‍स में भर्ती कराया गया। डाक्‍टरों के मुताबिक अभी दिल्‍ली पुलिस के एसआई विजेंद्र की हालत नाजुक है। यह पूरी घटना द्वारका के सेक्‍टर-4 की है।

क्‍या है गोलीकांड के पीछे की कहानी

बात कुछ साल पुरानी है। विजेंद्र 2001 में दिल्ली पुलिस में भर्ती हुआ था। 2008 में उसका प्रमोशन हुआ और वह एसआई बन गया। उसे उत्तम नगर थाने से पश्चिमी दिल्ली के रनहौला थाने में तैनात कर दिया। लेकिन तब तक वह उत्तम नगर में रहने वाली एक लड़की के संपर्क में आ चुका था। नजदीकियां बढ़ती गईं। इतनी कि उसने लड़की से शादी करने का वादा तक कर डाला। बावजूद इसके कि वह शादीशुदा था। यह बात पत्नी से कब तक छिपी रहती। पत्नी को पता चला तो उसने दिल्ली पुलिस के ही वरिष्ठ अधिकारियों से इसकी शिकायत की।

कई दिनों से छुट्टी पर था विजेंद्र

विजेंद्र बीते दो हफ्तों से छुट्टी पर था। हालांकि तीन-चार दिन पहले ही उसने ड्यूटी जॉइन की थी। उसके दो बच्चे भी हैं। सूत्रों ने बताया कि उसके खिलाफ विभागीय जांच भी शुरू होने वाली थी। शनिवार को ही वह वक्त पर ड्यूटी आने की बात कहकर गया था। सूत्रों के मुताबिक रविवार को उसने रिवॉल्वर उठाई और लड़की को पार्क में बुलाया। सूत्रों का यह भी कहना है कि लड़की ने विजेंद्र से उसके खिलाफ शिकायत न करने के बदले कुछ पैसे भी लिए थे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button