दिल्ली से जयपुर-कोटा होते हुए उज्जैन पहुंचा विकास दुबे! लखनऊ से मिली कानूनी मदद

5 लाख के ईनामी बदमाश विकास दुबे ने आखिरकार गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर में आत्म समर्पण कर दिया। विकास दुबे यूपी के कानपुर से सैकड़ों किलोमीटर का सफर करते हुए एक राज्य से दूसरे राज्य पहुंचता रहा और किसी को भनक तक नहीं लगी। खबर है कि विकास दुबे 7 जुलाई की रात दिल्ली से एक प्राइवेट बस में बैठा। इसके बाद राजस्थान के जयपुर और कोटा होते हुए वह मध्य प्रदेश के उज्जैन पहुंचा। 8 जुलाई को विकास दुबे उज्जैन के एक शराब कारोबारी के घर पर ठहरा।

वहीं दूसरी ओर महाकाल मंदिर के पास एक पुलिस ने एक लावारिस ब्रेजा कार बरामद की है। यह कार लखनऊ के वकील मनोज यादव के नाम पर रजिस्टर्ड है। कार की नंबर प्लेट पर हाई कोर्ट लिखा हुआ है। पुलिस ने उज्जैन पहुंचे लखनऊ के दो वकीलों को भी हिरासत में लिया है। पुलिस को संदेह है कि यह दोनों वकील विकास दुबे को कानूनी मदद के लिए उज्जैन पहंुचे थे। दोनों से पूछताछ की जा रही है।

Related Articles