शादी की ये अनोखी परंपरा ने छुआ सबका दिल, बनी मिसाल

0

देहरादून। शादी में कई तरह की रीती-रिवाज होते हैं, लेकिन उत्तराखंड के गांव वालों ने एक नई परंपरा की शुरुआत की। जिससे पूरे देश में इस गांव की चर्चा हो रही है। इस गांव में शादी के दौरान दूल्हा-दुल्हन पौधरोपित करेंगे। सभी लोग इस पहल को पर्यावरण संरक्षण के लिए बेहतर प्रयास मान रहे हैं।

दूल्हा-दुल्हन

दूल्हा-दुल्हन ने एक साथ किया पौधारोपण

दशोली विकासखंड के मैठाणा विजयनगर गांव में भीम सिंह रावत के पुत्र नरेंद्र रावत तथा विकासनगर घाट के प्रताप सिंह कुंवर की पुत्री राधा का विवाह रीति रिवाजों के अनुसार हुआ। यह विवाह गांव में एक नई परंपरा का साक्षी भी बना। इस परंपरा में दूल्हा-दुल्हन ने एक साथ पौधारोपण किया।    

असल में गांव में वैवाहिक कार्यक्रम के दौरान ग्रामीणों की पहल पर सबसे पहले वर-वधू से पौधरोपण कराया गया और उसके बाद बारातियों ने भी गांव के खेतों की मुंडेरों पर फलदार पौधों का रोपण कर नई परंपरा की शुरुआत की।

गांव की प्रधान दीपा देवी का कहना है कि ग्रामीणों द्वारा अब गांव में होने वाले प्रत्येक वैवाहिक कार्यक्रम में पौधरोपण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि गांव के लोग ही जंगलों के प्रहरी की भूमिका आज तक निभाते आ रहे हैं। ग्राम प्रधान ने कहा कि यह मुहिम आगे भी जारी रहेगी। बता दें कि प्रदूषण को देखते हुए ये एक बेहतर कदम माना जाता रहा है।

loading...
शेयर करें