देश की इस बड़ी कंपनी ने कर्मचारियों की सैलरी में की कटौती…

टाटा संस ने लागत कम करने के लिए कर्मचारियों के वेतन में कटौती शुरू कर दी है. ने बताया कि कोरोना वायरस के प्रकोप से टाटा संस का बिजनेस प्रभावित हुआ है. रिपोर्ट में कहा गया है कि टाटा संस और टाटा ग्रुप की कंपनियों के वरिष्ठ कर्मचारियों, वाइस-प्रेसिडेंट लेवल और उससे ऊपर के लोगों की सैलरी में 15 से 20 फीसदी तक कटौती शुरू हो गई है. रिपोर्ट में कहा गया है

कि टाटा समूह लागतों के अनुकूलन का उपाय करेगा. बता दें कि कोरोना वायरस महामारी से हुए नुकसान की भरपाई के लिए कंपनी ये कदम उठा रही है. टाटा समूह अपने इतिहास में पहली बार टाटा संस के चेयरमैन तथा सहायक कंपनियों के तमाम सीईओ के वेतन में लगभग 20% की कटौती कर रही है.

द्वारा संपर्क करने पर टाटा संस ने समूह में लागत अनुकूलन पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है. इंडीविज्यूअल ग्रुप की कंपनियों ने अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. CNBC-TV18 के मुताबिक, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज में वेतन कटौती लगभग 15-20 प्रतिशत होने की उम्मीद है. वहीं, टाटा केमिकल्स टाटा कंज्यूमर और इंडियन होटल्स के वेतन में 20 प्रतिशत कटौती की संभावना है

रिपोर्ट में कहा गया है कि टाटा स्टील और टाटा मोटर्स के वरिष्ठ प्रबंधन में 25 फीसदी की कटौती हो सकती है. वेतन कटौती 2020-21 के लिए आधार वेतन पर लागू होती है और मुआवजे के प्रदर्शन से संबंधित घटक प्रभावित नहीं होंगे.

वेतन में कटौती की खबर लग्जरी कार निर्माता जगुआर लैंड रोवर की ओनर टाटा मोटर्स द्वारा मार्च 2020 तिमाही के नतीजे पेश जारी होने के एक दिन बाद आई है. मार्च 2020 को समाप्त तिमाही में टाटा मोटर्स को 9,894.25 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. मार्च 2019 तिमाही में कंपनी को 1,117.5 करोड़ रुपयेऔर वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में 1,738.3 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था.

Related Articles