बेनकाब हुआ पाकिस्तान, नवाज शरीफ ने किया मुंबई आतंकी हमले को लेकर सबसे बड़ा खुलासा

0

इस्लामाबाद: भारत शुरुआत से पाकिस्तान पर वर्ष 2008 में हुए मुंबई आतंकी हमले का आरोप लगाता रहा है। हालांकि पाकिस्तान ने हमेशा इस आरोप को खारिज किया है, लेकिन अब पाकिस्तान ने इस जुर्म को कबूल कर लिया है।

दरअसल, पाकिस्तान के बर्खास्त प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अपने एक बयान में माना है कि मुंबई के आतंकी हमले को अंजाम देने वाले आतंकवादी पाकिस्तान सरकार की मदद से ही सीमा पार करके भारत पहुंचे थे।

नवाज शरीफ ने यह बात उस सवाल के जवाब में कबूल की जिसमें उनसे पूछा गया था कि क्या मुंबई आतंकी हमले में पाकिस्तान का हाथ है, क्या पाकिस्तान सरकार ने ही आतंकियों को सीमा पार कर भारत में प्रवेश करने की इजाजत दी थी। इस सवाल का जवाब देते हुए नवाज शरीफ ने कहा कि हां, अप्रत्यक्ष रूप से पाकिस्तान सरकार की भूमिका रही है।

नवाज शरीफ के इस कबूलनामे के बाद पाकिस्तान का वह काला मुखौटा उतर आया है जिसे मुंबई आतंकी हमले के परिपेक्ष्य में अभी तक उसने दुनिया के सामने ओढ़ रखा था। आपको बता दें कि पाकिस्तान अभी तक कहता दिखाई दे रहा था कि इस मामले में उसके देश की कोई भूमिका नहीं है।

इस बात का खुलासा करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा कि अगर देश में दो या तीन समांतर सरकारें हों, तो देश को नहीं चलाया जा सकता है। इसको रोकना होगा। देश में सिर्फ एक ही सरकार हो, जो संवैधानिक प्रक्रिया से चुनी गई हो। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में आतंकी संगठन सक्रिय हैं। क्या हमें उन्हें सीमा पार करने और मुंबई में 150 लोगों की हत्या करने की इजाजत दे देनी चाहिए? मुझे बताइए?

पाकिस्तानी अखबार डॉन को दिए इंटरव्यू में नवाज शरीफ ने यह भी साफ तौर पर माना कि पाकिस्तान में आतंकी सक्रिय हैं और पनाह पाते हैं। इससे पहले भारत काफी समय से यह बात कहता आ रहा है कि पाकिस्तान आतंकी की पनाहगाह है, लेकिन वो इस बात से इनकार करता रहा है। अब पाकिस्तान की पोल उसके पूर्व प्रधानमंत्री ने ही खोल दी है।

loading...
शेयर करें